बॉम्बे टॉकीज : मूवी प्रिव्यू

बॉम्बे टॉकीज
PR


फिल्म ‘स्टार’ का निर्देशन दिबाकर बनर्जी ने किया है। यह कहानी है एक असफल अभिनेता की जो अपने पिता की मौत के बाद से संघर्ष कर रहा है। उसे अपने आप को साबित करने का अखिरी मौका मिलता है।

द्वारा निर्देशित ‘मुरब्बा’ में कहानी है उत्तर प्रदेश के छोटे शहर के एक आदमी की जो अपने बीमार पिता की आखिरी इच्छा पूरी करने मुंबई आता है।

बैनर : वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स, फ्लाइंग यूनिकॉर्न एंटरटेनमेंट निर्माता : आशी दुआ निर्देशक : करण जौहर, दिबाकर बैनर्जी, अनुराग कश्यप, संगीत : अमित त्रिवेदी कलाकार : रानी मुखर्जी, रणदीप हुडा, साकिब सलीम, कैटरीना कैफ, नवाजुद्दीन सिद्दकी, सदाशिव अमरापुरकर
रिलीज डेट : 3 मई 2013
हिंदी सिनेमा के सौ साल पूरे होने के उपलक्ष्य में बनी फिल्म ‘बॉम्बे टॉकीज’ कई लघुफिल्मों से मिलकर बनी है। यह लघुफिल्में अलग - अलग सोच और संवेदनशीलता रखने वाले चार फिल्मकारों अनुराग कश्यप, दिबाकर बनर्जी, जोया अख्तर और द्वारा बनाई गई हैं।करण जौहर द्वारा निर्देशित शॉर्ट फिल्म ‘अजीब दास्तान है ये’ कहानी है शहर के एक खुशहाल दिखने वाले शादीशुदा युगल की। उनकी शादीशुदा जिंदगी तब बदल जाती है जब पत्नी का सहकर्मी उसकी जिंदगी में दाखिल हो जाता है।
जोया अख्तर की फिल्म ‘शीला की जवानी’, मध्यमवर्गीय परिवार के एक 12 वर्षीय लड़के की कहानी है। फिल्म स्टार से प्रेरित यह लड़का समाज की परंपराओं को तोड़, अपने सपनों को पूरा करने निकल पड़ता है। इस फिल्म में भारतीय सिनेमा के 100 वर्ष पूर्ण होने और मॉडर्न सिनेमा की शुरुआत को प्रतीक स्वरूप दर्शाया गया है।



और भी पढ़ें :