जंजीर खोलेगी तेल माफियाओं की पोल

जंजीर
PR


इस फिल्म में एसीपी विजय खन्ना का किरदार तेलुगु फिल्मों के सुपरस्टार रामचरण तेजा निभाएंगे। रामचरण ‘जंजीर’ से में धमाकेदार डेब्यू करने जा रहे हैं। उनके अपोजिट हैं प्रियंका चोपड़ा जिन्होंने माला नाम की लड़की का रोल निभाया है।

माला बॉलीवुड के लिए पागल है तथा एक एनआरआई है। यह सीदी-सादी लड़की मुंबई में एक शादी में शिरकत करने के लिए आती है। जहां वह एक मर्डर होते हुए देखती है और इस तरह वह मर्डर की चश्मदीद गवाह बन जाती है। रामचरण एक ईमानदार पुलिस ऑफिसर की भूमिका में है। एसीपी विजय खन्ना, कैसे इस तेल माफिया के गिरोह से लड़ता है। यहीं जंजीर में बताया जाएगा।

इस फिल्म में पत्रकार जे डे पर आधारित एक किरदार रखा गया है। जे डे की 11 जून 2011 को, दिन दहाड़े मुंबई स्थित पवई इलाके के हीरानंदानी गार्डन के सामने, 4 मोटरसाइकल सवारों ने गोली मार दी थी। उनकी मौत ने अपूर्व को इस घटना को अपनी फिल्म शामिल करने के लिए प्रेरित किया। फिल्म में अतुल कुलकर्णी, जे डे की कहानी से प्रेरित किरदार ‘जयदेव’ के रोल में नजर आएंगे।

अतुल कहते हैं ‘जयदेव फिल्म की पूरी कहानी में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। यह फिल्म में शामिल किया गया नया किरदार है, इसलिए मैं रोल को लेकर बहुत उत्साहित हूं। अपूर्व ने फिल्म में मेरे किरदार को आज के हिसाब बहुत शानदार तरीके से शामिल किया है। घटना ज्यादा पुरानी नहीं है जिस वजह से यह लोगों के दिमाग में ताजा है। मुझे पता चला कि जे डे, सही जानकारी और रिपोर्ट के लिए, कई बार अपनी जान भी खतरे में डाल दिया करते थे। जब वे माफिया से डील कर रहे थे, तब वे जानते थे कि उनकी जिंदगी खतरे में है। हम जे डे पर फिल्म नहीं बना रहे। फिल्म में केवल मेरा किरदार जे डे से प्रभावित है।‘

‘जंजीर 2’ में तेलुगु अभिनेता राम चरण, संजय दत्त, प्रियंका चोपड़ा, प्रकाश राज और माही गिल मुख्य भूमिकाएं निभा रहे हैं। फिल्म 6 सितंबर को रिलीज होगी।
WD|
निर्देशक अपूर्व लाखिया, जिन्होंने ‘एक अजनबी’ और ‘शूट ऑउट एट लोखंडवाला’ जैसी थ्रिलर और एक्शन फिल्में दी हैं, उनकी आने वाली फिल्म तेल माफिया द्वारा किए अपराध पर आधारित है। अपनी इस रीमेक में अपूर्व भारत में हुए तेल घोटालों को उजागर करते हुए दिखाएंगे। फिल्म में दर्शकों को असल जिंदगी में हुए इस तरह के घोटालो को देखने को मिलेगा। जंजीर के बारे में अपूर्व लाखिया का कहना है ‘हम अपनी फिल्म को रियलिस्टिक और आज के मुद्दों पर बनाना चाहते थे। जब मुझे जंजीर के रीमेक का ऑफर आया तब सोनवाने का कत्ल हुआ ही था और तेल माफिया की खबर भी उन दिनों जोरों पर थी। इसलिए हमने फैसला किया कि हमारी फिल्म भी इसी पर आधारित होगी। इस केस पर हमने काफी रिसर्च की है और हमें यह इस कहानी को बनाने का मौका मिल गया।‘




और भी पढ़ें :