0

Vastu Tips : भवन बनाते समय चुनें सही लकड़ी और खरीदें सही फर्नीचर

गुरुवार,मार्च 4, 2021
0
1
जो कोई वास्तुशास्त्री यह कहता है कि मंदिर के पास नहीं रहना चाहिए उसे यह भी समझना होगा कि तीर्थ स्थलों में असंख्य मंदिर होते हैं और वहां के घर या मकान सभी किसी न किसी मंदिर के पास ही होते हैं। उन सभी लोगों का जीवन बुरा नहीं है बल्कि सामान्य जीवन की ...
1
2
बेडरूम में आते ही आपको घुटन हो, तनाव हो, आपस में कलह हो, नींद न आती हो तो आपको देखना चाहिए कि कहीं आपके कमरे में भी यह 5 चीजें तो नहीं रखी हैं।
2
3
यदि आप खुद का घर बनाने के लिए प्लाट यह भूमि खरीद रहे हैं तो वास्तु का विशेष ध्यान रखें अन्यथा आपको बाद में परेशानियों को सामना करना पड़ सकता है। यहां बताएं जा रहे हैं 6 वास्तु टिप्स।
3
4
हिन्दू पुराणों और वास्तु शास्त्र में कुछ जगहों पर एक सभ्य व्यक्ति को नहीं रहना चाहिए। यदि वह वहां रहता है तो निश्‍चित ही उसके जीवन और भविष्‍य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं। घर यह सुकून का नहीं है तो कैसे जीवन में सुकून आएगा। जैसे चौराहे, तिराहे, ...
4
4
5
वैसे दिशाएं 10 होती हैं, लेकिन एक 11वीं दिशा भी होती है जिसे मध्य में माना जा सकता है अर्थात आकाश की दिशा। घर की दिशाओं में सबसे आखिरी और बेहद महत्वपूर्ण दिशा है घर की मध्य दिशा। यह दिशा घर के बिलकुल बीचोंबीच होने के कारण घर की हर दिशा से जुड़ी होती ...
5
6
बैठक रूम कैसा होना चाहिए, यह आपके मकान की दिशा से तय होता है। यदि मकान पूर्व या उत्तरमुखी है तो बैठक रूम को पूर्वोत्तर दिशा अर्थात ईशान कोण में होना चाहिए। यदि मकान पश्चिममुखी है तो बैठक रूम को उत्तर-पश्चिम दिशा अर्थात वायव्य कोण में होना चाहिए। यदि ...
6
7
जितना महत्वपूर्ण घर का फर्श या टाइल्स का रंग बहुत महत्वपूर्ण होता है उतना ही घर का कारपेट भी महत्वपूर्ण होता है। वास्तु अनुसार ही कारपेट का भी चयन करना चाहिए। आओ जानते हैं कि कैसा और किस रंग का होना चाहिए घर का कारपेट।
7
8
घर के दरवाजे बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं। कई बार हम मकान खरीदते वक्त या बनवाते वक्त यह ध्यान नहीं देते हैं कि किस प्रकार के दरवाजे लगाए जा रहे हैं। घर का मुख्‍य द्वार वास्तु अनुसार होता है तो कई समस्याएं स्वत: ही समाप्त हो जाती है। बेहतर होगा कि ...
8
8
9
वास्तु शास्त्र में दक्षिण दिशा के मकान को कुछ परिस्थिति को छोड़कर अशुभ और नकारात्मक प्रभाव वाला माना जाता है। दरअसल, हर दिशा में कोई न कोई ग्रह स्थित है जो कि अपना अच्छा या बुरा प्रभाव डालता है। यह निर्भर करता है मकान के वास्तु, मुहल्ले के वास्तु और ...
9
10
यदि आप वैवाहिक जीवन में ख़ुशियां चाहते हैं, तो बेडरूम की साफ़-सफ़ाई व ख़ूबसूरती पर भी विशेष ध्यान दें।
10
11
अक्सर आपने घर में देखा होगा खिड़की के अलावा एक उजालदान होता है जिसे वातायन, हवादार, संवातन या वेंटिलेशन भी कहते हैं। हालांकि वेंटिलेशन कई प्रकार के होते हैं। यह अक्सर दरवाजे के ऊपर, खिड़की के ऊपर या दीवार में कहीं छत से लगा होता है। इसका वास्तु ...
11
12
अगर आपके बच्चे का पढ़ाई में मन नहीं लग रहा है या वह पढ़ाई से जी चुरा रहा है, उसका स्वास्थ्य भी ठीक नहीं रहता हैं तो आप नीचे दिए गए टिप्स के अनुसार बच्चे के
12
13
वास्तु शास्त्र के अनुसार घर को डेकोरेट करने और कुछ निमयों के साथ ही मांगलिक वस्तुओं के रखने से एक ओर जहां घर का वास्तु दोष दूर होगा वहीं दूसरी ओर आपके भाग्य खुल जाएंगे। आओ जानते हैं कि किस तरह आप घर को भाग्यवर्धक बना सकते हैं।
13
14
घर की किस दिशा में घड़ी लगाना शुभ होता है यह हममें से कम लोग जानते हैं। आइए जानें घड़ी की वास्तु अनुसार कुछ खास बातें...
14
15
हर घर में लकड़ी का सामान होता है। लकड़ी के सामान में क्या होना चाहिए और क्या नहीं यह भी वास्तु अनुसार ध्यान देने वाली बात है, क्योंकि कई बार लकड़ी से भी वास्तुदोष निर्मित होने की संभावना रहती है। अत: यहां पर जानिए लकड़ी के 5 बेहतरीन वास्तु टिप्स।
15
16
हर गृह स्वामी को अपने घर के संपूर्ण वास्तु-विचार के साथ अपने बच्चों के कमरे के वास्तु का भी ध्यान रखना चाहिए। बच्चों की उन्नति एवं बुद्धि प्राप्ति के लिए उनका वास्तु अनुकूल गृह
16
17
घर के लिए जब भी रंगों का चुनाव करना होता है, तो हम कई बातों पर ध्यान देते हैं, जैसे रंग शांति व खुशी का एहसास दे और ऊर्जा व उत्साह को बढ़ाए। फेंगशुई से जानते हैं रंगों के सजीले संसार के बारे में...
17
18
मानव का सबसे वफादार मित्र कुत्ता भी नकारात्मक शक्तियों को खत्म कर सकता है। उसमें भी काला कुत्ता सबसे ज्यादा उपयोगी सिद्ध होता है।
18
19
बांसुरी घर के वातावरण में मौजूद समस्त नकारात्मक शक्तियों को समाप्त करके सकारात्मक ऊर्जा सक्रिय करने का कार्य करती है।
19