यूपी के प्रयागराज में मुठभेड़, 2 बदमाश ढेर, मुख्‍तार अंसारी गैंग के लिए कर चुके थे काम

Last Updated: गुरुवार, 4 मार्च 2021 (09:32 IST)
प्रयागराज/लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने प्रयागराज के अरैल इलाके में हुई मुठभेड़ में दो कुख्यात शार्प शूटरों को ढेर कर दिया। दोनों करीब 8 साल पहले बाहुबली मुख्तार अंसारी की गैंग के लिए काम कर चुके थे और फिलहाल दिलिप मिश्रा गैंग से जुड़े थे।
ALSO READ:
3 दिन, 4 बड़े अपराधों से दहला यूपी, क्यों बढ़ रहा है योगी के राज में क्राइम...
एसटीएफ के पुलिस महानिरीक्षक अमिताभ यश ने बताया कि एसटीएफ ने सूचना मिलने पर कल आधी रात के समय प्रयागराज के अरैल इलाके में बाइक सवार बदमाशों के साथ हुई मुठभेड़ में दो कुख्यात शर्प शूटरो को ढेर कर दिया।

उन्होंने बताया कि बदमाशों की शिनाख्त माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी और दिलीप मिश्रा गिरोह के कुख्यात शार्प शूटर व 50 हजार रुपये के इनामी अपराधी वकील पाण्डेय के अलावा हिस्ट्रीशीटर के रुप में की गई। उनके कब्जे से 30 और 9 एमएम की पिस्टल, कुछ जिन्दा एवं खोखा कारतूस बरामद किए गए।

उन्होंने बताया कि सूचना मिलने पर प्रयागराज एसटीएफ के पुलिस उपाधीक्षक नवेन्दु कुमार के नेतृत्व में ठगित एक टीम मूखबिर के बताये गए स्थान अरैल इलाके के कछार में पहुंची। उसी समय बदमाशों के साथ हुई मुठभेड़ में दोनों बदमाश मारे गए।
उन्होंने बताया कि वकील पाण्डेय को लोग राजीव पाण्डेय उर्फ राजू के तौर पर भी जानते थे। वहीं हिस्ट्रीटर अमजद को अंगद उर्फ पिन्टू उर्फ डाक्टर के रूप में भी पहचाना जाता था। दोनों मुन्ना बजरंगी एवं बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी गिरोह के शूटर थे, लेकिन पिछले कुछ समय से दिलीप मिश्रा के लिए काम करते थे।

यश ने बताया कि दोनों अपराधी ने वर्ष 2013 में माफिया मुन्ना बजरंगी व मुख्तार अंसारी के इशारे पर बनारस के तत्कालीन डिप्टी जेलर अनिल कुमार त्यागी की दिनदहाड़े गोली मारकर कर इलाके में सनसनी फैला दी थी। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर वायरल लेटर में ज्ञानपुर, भदोही से वर्तमान विधायक विजय मिश्रा वकील उर्फ राजीव पाण्डेय से अपनी जान को खतरा बता चुके हैं। ये दोनों बदमाश प्रयागराज में किसी की हत्या के इरादे से आए थे।



और भी पढ़ें :