रामायण ने विश्व स्तर पर मचाई धूम, गेम ऑफ थ्रोन्स का रिकॉर्ड ब्रेक

ramayana
Last Updated: शनिवार, 2 मई 2020 (17:18 IST)
नई दिल्ली। देश में की वजह से डीडी नेशनल पर 33 वर्ष बाद दोबारा प्रसारित हुआ टीवी कार्यक्रम ‘रामायण’ कई अपने नाम करता जा रहा है। रामानंद सागर के इस पुराने शो को जबरदस्त टीआरपी मिल रही है। पहले साल 2015 ‘रामायण' ने सबसे अधिक टीआरपी जनरेट करने वाले प्रोग्राम होने का रिकॉर्ड बनाया था और अब एक और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। ‘रामायण’ दुनिया में सबसे ज्यादा देखा जाने वाला प्रोग्राम बन गया है।
इसकी जानकारी खुद डीडी नेशनल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर दी है। ‘विश्व रिकॉर्ड!! दूरदर्शन पर के दोबारा ने वर्ल्ड वाइल व्यूअरशिप को तोड़ दिया है। 16 अप्रैल को सबसे ज्यादा देखा जाने वाला शो बना। इसे 7.7 करोड़ लोगों ने देखा।'
रामायण ने हॉलीवुड के सबसे लोकप्रिय शो गेम ऑफ थ्रोन्स को भी पीछे छोड़ दिया है। खबरों के मुताबिक टीआरपी के मामले में रामायण गेम ऑफ थ्रोन्स से भी आगे निकल गया है। ऐसा बताया गया है कि गेम ऑफ थ्रोन्स के फिनाले एपिसोड को जितनी व्यूअरशिप मिली थी उसे ध्वस्त कर दिया गया है। जो रिकॉर्ड लंबे समय तक नहीं टूटा था उसे ने तोड़ दिया है।
हालांकि, 16 अप्रैल को प्रसारित हुए एपिसोड के विश्व रिकॉर्ड बनने के बाद लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि आखिर उस एपिसोड में ऐसा क्या दिखाया गया था। उस दिन के एपिसोड में मेघनाद द्वारा लक्ष्मण को शक्ति बाण मारने के बाद का हिस्सा दिखाया गया है। जिसमें हनुमान, विभीषण के कहने पर लंका में जाकर वैद्य को बुलाकर लाते हैं। इसके बाद वह वैद्य के कहे अनुसार संजीवनी बूटी के लिए पूरा पर्वत ही उठा लाते हैं। इस दौरान भरत और हनुमान का संवाद भी दिखाया गया था। साथ ही लक्ष्मणजी के इलाज का सीन भी 16 अप्रैल को ही दिखाया गया था।
रामायण के बाद अब दूरदर्शन पर उत्तर रामायण का प्रसारण किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि दर्शकों की अपील पर ही लॉकडाउन में रामायण का दूरदर्शन पर फिर प्रसारण शुरू किया गया था. रामायण के अलावा महाभारत, शक्तिमान, देख भाई देख जैसे पुराने शोज भी फिर दिखाए जा रहे हैं।


और भी पढ़ें :