यह हो सकती है भारत की प्लेइंग 11, पांड्या और दो स्पिनरों पर फंसा है पेंच

Last Updated: रविवार, 24 अक्टूबर 2021 (17:16 IST)
और के बीच शाम 7,30 बजे से खेला जाने वाला मुकाबला जितना करीब आ रहा है उतनी उत्सुकता फैंस में है कि भारत की प्लेइंग 11 क्या होगी। पाकिस्तान ने अपने अंतिम 12 खिलाड़ियों की घोषणा कल कर दी थी।

भारत के लिए अच्छी खबर यह है कि आईपीएल में बुरे फॉर्म से गुजर रहे शीर्ष खिलाड़ी अभ्यास मैच में फॉर्म में आ गए हैं। भारत के लिए टीम कॉम्बिनेशन लगभग साफ है। बस दो बिंदुओं पर पेंच फंसा है।
पहला क्या हार्दिक पांड्या मैच में एक ऑलराउंडर की हैसियत से खेलेंगे या फिर एक बल्लेबाज के रूप में। दूसरा यह कि भारत का कौन सा स्पिनर होगा जो इस महत्वपूर्ण मैच में खेलेगा। क्या विराट कोहली अनुभवी आर अश्विन को लेंगे या फिर मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती को मौका देंगे।

अभ्यास मैच में वरूण चक्रवर्ती को मौका नहीं दिया गया था शायद इसलिए कि उनके एक्शन को कोई विरोधी जांच परख ना सके। इस कारण हो सकता है आज वरुण चक्रवर्ती को मौका मिले।

पाकिस्तान के खिलाफ भारत इन खिलाड़ियों को मौका दे सकता है-

केएल राहुल-

केएल राहुल का सलामी बल्लेबाज के तौर पर उतरना लगभग तय है। इंग्लैंड से हुए अभ्यास मैच में राहुल ने 24 गेंदों पर छह चौके और तीन छक्कों की मदद से 51 रन बनाए थे। ऑस्ट्रेलिया से हुए मैच में
राहुल ने पिछले मैच की फॉर्म को बरकरार रखते हुए 31 गेंदों पर दो चौकों और तीन छक्कों की मदद से 39 रन की शानदार पारी खेली थी।

रोहित शर्मा- ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे अभ्यास मैच में रोहित 41 गेंदों पर पांच चौकों और तीन छक्के लगाते हुए 60 रन बनाकर रिटायर्ड हर्ट हुए थे। पाकिस्तान के खिलाफ उनका रिकॉर्ड खासा अच्छा है। वनडे विश्वकप 2019 में वह पाक के खिलाफ शतक जड़ चुके हैं तो उनका खेलना लगभग तय है।

विराट कोहली- विराट कोहली बिना आउट हुए पाकिस्तान के खिलाफ टी-20 विश्वकप के 3 मैचों में 169 रन बना चुके हैं। इतने रन बनाने के लिए उन्होंने सिर्फ 130 गेंद इस्तेमाल की। इन मैचों में विराट ने कुल 19 चौके लगाए और 4 छक्के लगाए।

हर पारी में उन्होंने गेंदे कम और रन ज्यादा बनाए। एक और दिलचस्प बात यह रही कि तीनों मैचों में उन्होंने बाद में बल्लेबाजी करने पर यह रन बनाए। फैंस को उम्मीद होगी कि विराट का यह अविजित रिकॉर्ड 2021 के मैच में भी कायम रहे।वह कप्तान भी हैं तो उनका खेलना लाजमी है।

ईशान किशन- ईशान किशन को सूर्यकुमार यादव के ऊपर तरजीह मिलने की संभावना है। ईशान किशन ने इंग्लैंड से हुए अभ्यास मैच में 46 गेंदों पर 70 रन की पारी खेली थी जिसमें सात चौके और तीन छक्के शामिल थे। इससे पहले आईपीएल के अंतिम मैच में भी ईशान ने 80 से ज्यादा रन बनाए थे।

ईशान के रहने से टीम को एक अतिरिक्त बांए हाथ का बल्लेबाज मिल सकता है। वहीं चोट के वक्त वह पंत की जगह कीपिंग भी कर सकते हैं।

ऋषभ पंत - इंग्लैंड के खिलाफ हुए अभ्यास मैच में छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाने वाले ऋषभ पंत टीम के विकेटकीपर रहेंगे। पंत के फॉर्म में अभी वह बात नजर नहीं आ रही लेकिन उनका हर मैच खेलना जरूरी है ताकि आगे आने वाले मैचों में वह प्रदर्शन सुधार सकें।
हार्दिक पांड्या- हार्दिक पांड्या भले ही ओवर ना डाल पा रहे हों लेकिन कल हुई प्रेस वार्ता में विराट कोहली ने साफ साफ कह दिया है कि 6 नंबर पर हार्दिक पांड्या का विकल्प रातों रात नहीं मिल सकता और सिर्फ 2 ओवरों के लिए वह हार्दिक को बैंच पर नहीं बैठाने वाले हैं।

रविंद्र जड़ेजा- रविंद्र जड़ेजा भारतीय टीम के एक अहम खिलाड़ी है। गेंद और बल्ले दोनों से ही वह कई बार पाकिस्तानी टीम को मुश्किल में डाल चुके हैं। इसके अलावा उनकी फील्डिंग टीम का मनोबल बढ़ा देती है। जड़ेजा का टीम में होना लगभग तय है।

मोहम्मद शमी- मोहम्मद शमी ने इंग्लैंड से होने वाले मैच में अच्छी गेंदबाजी की थी। मोहम्मद शमी ने 40 रन देकर तीन विकेट लिये थे। वह भले ही थोड़े महंगे साबित हुए लेकिन उनमें विकेट लेने की काबिलियत है। शमी पाकिस्तान के खिलाफ कई मर्तबा खेल भी चुके हैं। इस कारण वह टीम में शामिल होंगे।

वरुण चक्रवर्ती- मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती को आज पहली बार पाकिस्तान के सामने खिलाया जा सकता है क्योंकि दोनों ही एक दूसरे से कभी रूबरू नहीं हुए हैं। ऐसे में वरुण चक्रवर्ती को पाक के बल्लेबाजों को छकाने का आज पूरा मौका मिलेगा।

शार्दुल ठाकुर- शार्दुल ठाकुर को अक्षर पटेल की जगह टीम में शामिल किया गया था। आज शार्दुल ठाकुर को टीम में मौका मिल सकता है क्योंकि भुवनेश्वर का फॉर्म सही नहीं चल रहा । शार्दुल गेंद के साथ समय आने पर बल्ले से भी कमाल दिखा देते हैं।

जसप्रीत बुमराह- जसप्रीत बुमराह ने इंग्लैंड के खिलाफ हुए मुकाबले में जॉनी बेरेसटो को यॉर्कर डाल कर आउट किया था। उनको टीम में इस ही गेंदबाजी के कारण खिलाया जाएगा। वही टीम के सर्वश्रेष्ठ डेथ गेंदबाज है। उन्हें पाक के खिलाफ खेलने का अनुभव भी प्राप्त है।



और भी पढ़ें :