जॉस बटलर के तूफान में उड़े कंगारु, 32 गेंदों में 71 रनों की पारी के कारण इंग्लैंड 8 विकेट से जीता

Last Updated: रविवार, 31 अक्टूबर 2021 (17:18 IST)
हमें फॉलो करें
दुबई:ऑस्ट्रेलिया द्वारा दिया गया 126 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ने यह बता दिया कि वह क्यों टी-20 रैंकिंग में नंबर 1 टीम हैं। पहले 6 ओवर में ही टीम ने आधे रन बना लिए थे और 12वें ओवर में ही सिर्फ 2 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

इसका कारण रहे जिन्होंने 32 गेंदो में 5 चौके और छक्के लगाकर मैच में ऑस्ट्रेलिया को कभी वापस आने ही नहीं दिया और यह मैच इंग्लैंड ने 8 विकेट से जीत लिया।
इंग्लैंड ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर की 32 गेंद में पांच चौके और पांच छक्कों से सजी 71 रन की नाबाद अर्धशतकीय पारी से शनिवार को यहां आईसीसी पुरूष टी20 विश्व कप के सुपर 12 चरण के ग्रुप एक मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी ऑस्ट्रेलिया को 50 गेंद रहते आठ विकेट से करारी शिकस्त देकर तीसरी जीत दर्ज की।

बेहतरीन फार्म में चल रही इंग्लैंड की टीम छह अंक लेकर ग्रुप एक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गयी है जिससे उसका नेट रन रेट + 3.95 हो गया है और उसका सेमीफाइनल में पहुंचना लगभग पक्का है।ऑस्ट्रेलियाई टीम इस करारी हार के बाद दूसरे स्थान से खिसककर तीसरे स्थान पर पहुंच गयी है और चार अंक से उनका नेट रन रेट -0.627 हो गया है।
ऑस्ट्रेलियाई टीम खराब शुरूआत के बाद 20 ओवर में 125 रन पर सिमट गयी। उसके लिये कप्तान आरोन फिंच ने मुश्किल परिस्थितियों में 44 रन की पारी खेली और एशटन एगर (20) के साथ छठे विकेट के लिये 47 रन की साझेदारी कर यह स्कोर बनाने में मदद की।

इंग्लैंड ने बटलर और जेसन रॉय (22 रन) द्वारा की गयी शानदार शुरूआत से 11.4 ओवर में दो विकेट पर 126 रन बनाकर जीत दर्ज की।बटलर ने एडम जम्पा पर छक्का जड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया। उनके साथ जॉनी बेयरस्टो 16 रन बनाकर नाबाद रहे।
इंग्लैंड ने पावरप्ले में बिना विकेट गंवाये 66 रन बना लिये थे। जम्पा ने अपने ही ओवर में इसी स्कोर पर जेसन रॉय (20 गेंद, एक चौका, एक छक्का) को पगबाधा आउट कर दिया।डेविड मलान (08) 10वें ओवर में एगर की गेंद पर विकेटकीपर को कैच देकर आउट हुए।

बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद आस्ट्रेलिया की शुरूआत काफी खराब रही। उसने दूसरे, तीसरे और चौथे ओवर में क्रमश: डेविड वार्नर, स्टीव स्मिथ और ग्लेन मैक्सवेल के विकेट गंवा दिये जिससे पावरप्ले में उसका स्कोर तीन विकेट पर 21 रन था।
इससे बने दबाव का अंदाजा ऑस्ट्रेलियाई पारी की बाउंड्री से ही लगाया जा सकता है जिसमें सिर्फ सात चौके और पांच छक्के शामिल हैं।इंग्लैंड के लिये सबसे सफल गेंदबाज क्रिस जोर्डन रहे जिन्होंने 17 रन देकर तीन विकेट अपने नाम किये।गेंदबाजी के साथ क्षेत्ररक्षण में शानदार प्रदर्शन करने वाले क्रिस वोक्स ने 23 रन देकर पावरप्ले में दो विकेट प्राप्त किये।

टाइमल मिल्स हालांकि 45 रन देकर थोड़े महंगे रहे, लेकिन दो विकेट झटकने में कामयाब रहे। आदिल राशिद और लियाम लिविंगस्टोन ने एक एक विकेट प्राप्त किया।

एगर ने स्कोर बढ़ाने की कोशिश में 17वें ओवर में वोक्स पर लगातार दो छक्के जमाकर इस ओवर में टीम के खाते में सबसे ज्यादा 20 रन जोड़े। पर वह अगले ओवर में मिल्स की चौथी गेंद का शिकार हुए। पैट कमिंस क्रीज पर उतरे जिन्होंने अगली दो गेंद पर लगातार छक्के जमाये।
Absolutely dominant performance from England. is a treat to watch in full flow. Ominous signs for rest of the teams. #EngvAus #t20worldcup



- Wasim Jaffer (@WasimJaffer14) 30 Oct 2021
इसके बाद फिंच (49 गेंद में चार चौके) 19वें ओवर की पहली गेंद पर क्रिस जोर्डन की गेंद को ऊंचा खेलकर लांग आफ में कैच आउट हुए। अगली ही यार्कर गेंद पर कमिंस (12 रन, तीन गेंद, दो छक्के) बोल्ड हो गये।मिशेल स्टार्क ने अंत में छह गेंद में एक चौके और एक छक्के से 13 रन का योगदान दिया और मिल्स की गेंद पर आउट होने वाले अंतिम खिलाड़ी रहे।

इससे पहले सलामी बल्लेबाज वार्नर वोक्स की गेंद पर बल्ला भिड़ाकर विकेटकीपर को कैच थमा बैठे।फिर इंग्लैंड ने दूसरा करारा झटका स्मिथ को आउट कर दिया। क्रिस जोर्डन की आफ कटर पर वोक्स ने उनका लाजवाब कैच लपका। वोक्स ने फिर चौथे ओवर में मैक्सवेल को पगबाधा आउट किया।

इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने इस मैच में मोईन अली के बजाय आदिल राशिद से गेंदबाजी की शुरूआत करायी जिन्होंने सातवें ओवर में मार्कस स्टोईनिस को पगबाधा आउट किया जो खाता भी नहीं खोल सके थे।

विकेटकीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड (18 रन) ही पिच पर कुछ देर टिक सके जिससे उन्होंने और फिंच ने पांचवें विकेट के लिये 30 रन जोड़े। पर लियाम लिविंगस्टोन ने उनकी पारी समाप्त कर दी।

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने अपने महान आफ स्पिनर एशले मालेट और आल राउंडर एलेन डेविडसन के निधन के शोक में आज मैच के दौरान बांह पर काली पट्टी बांधी।आस्ट्रेलिया ने मिशेल मार्श की जगह एगर को अंतिम एकादश में शामिल किया था।



और भी पढ़ें :