हारी हुई टीम ही खिला सकते हैं कोहली, खुद गेंदबाजी कर लेंगे लेकिन हार्दिक को जरुर खिलाएंगे कप्तान

Last Updated: मंगलवार, 21 दिसंबर 2021 (17:29 IST)
दुबई: भारतीय क्रिकेट टीम का टी20 वर्ल्ड कप के अगले मुकाबले में का सामना करेगी। दुबई में 31 अक्टूबर को होने वाले सुपर-12 चरण के मुकाबले के लिए सुनील गावस्कर समेत कुछ दिग्गज प्लेइंग-XI में बदलाव की बात कह रहे हैं। हालांकि इस ‘करो या मरो’ के मुकाबले में समान एकादश उतार सकता है यानी कि ऐसी पूरी संभावना है कि प्लेइंग-XI में कोई बदलाव ना हो।

भारतीय टीम को टी20 वर्ल्ड कप के अपने पहले ही मुकाबले में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से 10 विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी थी। एक हार के बाद टीम में बदलाव नहीं करने की आदत मौजूदा आईपीएल चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स

की रही है। भारतीय टीम भी उसी एकादश पर भरोसा कर सकती है जिसे पाकिस्तान ने दुबई में 10 विकेट से हराया था। CSK के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी टीम इंडिया के साथ मेंटॉर के तौर पर जुड़े हैं।

पाकिस्तान के खिलाफ खराब प्रदर्शन से टीम संयोजन को लेकर गंभीर सवाल उठने लगे हैं लेकिन समझा जाता है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम संयोजन में धोनी की राय काफी मायने रखेगी। इसके मायने हैं कि हार्दिक पंड्या
की जगह पेसर शार्दुल ठाकुर को उतारे जाने की संभावना नहीं है। पंड्या ने गेंदबाजी प्रैक्टिस शुरू कर दी है क्योंकि उन्हें भी पता है कि अब इसके बिना काम चलने वाला नहीं है।

स्पिनर वरुण चक्रवर्ती के पूरी तरह फिट होने पर खेलने की संभावना है। अगर कप्तान विराट कोहली स्पिन आक्रमण में बदलाव नहीं करना चाहते तो रविचंद्रन अश्विन को फिर बाहर रहना होगा। विराट नंबर-3 पर उतर रहे हैं, ऐसे में सूर्यकुमार यादव नंबर-4 और उनके बाद ऋषभ पंत का उतरना तय माना जा रहा है। पेस आक्रमण में बदलाव की गुंजाइश भी नजर नहीं आती।

न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में गेंदबाजी के लिए उपलब्ध हो सकते हैं हार्दिक पांड्या

भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या यहां जारी आईसीसी टी-20 विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ आगामी रविवार को खेले जाने वाले मैच में गेंदबाजी करने के लिए उपलब्ध हो सकते हैं। आज यहां गेंदबाजी अभ्यास सत्र में उनकी प्रगति के मूल्यांकन के बाद उन्हें गेंदबाजी के लिए अनुमति दी जाएगी।

दरअसल पांड्या ने बीते बुधवार काे नेट्स पर गेंदबाजी की थी और समझा जाता है कि दुबई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में जरूरत पड़ने पर वह अपने कोटे के चार ओवर डाल सकते हैं। भारतीय टीम प्रबंधन हालांकि उन्हें आज फिर से गेंदबाजी करने के लिए कहेगा, ताकि उनकी फिटनेस का पता चल सके और यह तय किया जा सके कि उन्हें न्यूजीलैंड के मैच के लिए चुना जा सकता है या नहीं। गुरुवार को नेट सेशन नहीं हुआ था।
उल्लेखनीय है कि 28 वर्षीय हार्दिक पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच के दौरान चोटिल हो गए थे। वह दाएं कंधे में दर्द महसूस करते दिखे थे। इसके बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने एक बयान में कहा था, “ हार्दिक को स्कैन के लिए ले जाया गया था, क्योंकि उस मैच में उन्होंने फील्डिंग नहीं की थी, इसलिए एमआरआई स्कैन रिपोर्ट में कोई समस्या नहीं दिखी। ”

विराट ने की नेट्स में गेंदबाजी, हार्दिक के गेंदबाजी ना करने पर गेंद थामेंगे कप्तान

अगर हार्दिक पांड्या गेंदबाजी के लिए फिट रहते हैं तो ठीक लेकिन अगर हार्दिक पांड्या फिट नहीं होते हैं तो कप्तान विराट कोहली 2 ओवर की गेंदबाजी कर सकते हैं। नेट्स में उन्होंने गेंदबाजी की और तब से ही इस बात की संभावना प्रबल हो गई।

वैसे आपको बता दें कि पिछले कुछ टी-20 विश्वकप मैचों में विराट कोहली ने गेंदबाजी भी की है और विकेट भी चटकाए हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत के अंतिम टी-20 विश्वकप मैच में भी विराट कोहली ने विकेट झटका था। देखना यह होगा कि वह इस विश्वकप में कितनी बार गेंद थामे दिखते हैं।

विराट कोहली का पहला टी-20 विकेट केविन पीटरसन थे। उन्हें कोहली ने धोनी के हाथों स्टंप आउट करवाया था। इसके बाद साल 2011 में एक और इंग्लैंड के बल्लेबाज को उन्हें आउट किया था।

साल 2012 के टी-20 विश्वकप में उन्होंने पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज मोहम्मद हफीज को आउट किया था। बल्ले से अर्धशतक बनाने के कारण उन्हें इस मैच में मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया था।

इसके अलावा साल 2016 के टी-20 विश्वकप के सेमीफाइनल में उन्होंने वेस्टइंडीज
के जॉनसन चार्ल्स को आउट कर टीम इंडिया को बड़ी राहत दिलाई थी। हालांकि इस मैच का अंतिम ओवर कोहली ने ही डाला था लेकिन कोहली की गेंद पर 6 रन मारकर वेस्टइंडीज के बल्लेबाज ने भारत को टी-20 विश्वकप से बाहर कर दिया था।
भारत (संभावित प्लेइंग): रोहित शर्मा, केएल राहुल, विराट कोहली (कप्तान), सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, वरुण चक्रवर्ती और जसप्रीत बुमराह।



और भी पढ़ें :