टी-20 विश्वकप से शुरु की ओपनिंग और इस कीवी बल्लेबाज ने पहुंचा दिया न्यूजीलैंड को फाइनल में

Last Updated: गुरुवार, 11 नवंबर 2021 (12:47 IST)
दुबई:इतिहास के खिलाफ था, साल 2016 का टी-20 विश्वकप सेमीफाइल फिर साल 2019 वनडे विश्वकप की दिल तोड़ देने वाली हार जो आज तक कितने रनों और कितने विकटों से हुई, कोई नहीं बता सकता। इसके बावजूद न्यूजीलैंड आज को 5 विकेट से हराकर फाइनल में पहुंचा है तो उसके पीछे कारण है जिन्होंने इस टूर्नामेंट में ही न्यूजीलैंड के लिए सलामी बल्लेबाजी शुरु की।

डेरेल मिचेल ने जो सूझबूझ भरी पारी खेली वह इस कारण भी बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है क्योंकि उन्होंने अपने सामने केन विलियमस्न का विकेट सस्ते में गिरते हुए देखा। उस वक्त तो इंग्लैंड लगभग यह सोच चुकी थी कि अब न्यूजीलैंड की रीढ़ को रवाना कर दिया है तो मैच लगभग खत्म हो गया लेकिन मिचेल के इरादे अलग थे।

वह सिर्फ स्ट्राइक रोटेट करते रहे और जब सही समय आया तब जाकर बल्लेबाजी में चौथा गियर लगाया। क्रिकेट फैंस को जानकार हैरानी होगी कि 47 गेंदो में 4 चौके और 4 छक्के लगाकर नाबाद 72 रन बनाने वाले डेरेल मिचेल एक समय 34 गेंदो में 40 रन बना पाए थे।
उन्होंने आदिल रशीद की गेंद पर छक्का मारकर 42 गेंदो में अपना अर्धशतक पूरा किया था। लेकिन इस ही ओवर में ताबड़तोड़ रन बनाने वाले जिमी नीशम आउट हो गए थे। न्यूजीलैंड के लिए आंकड़ा 5 ओवर में 60 रनों से 2 ओवरों में 20 रन तक आ गया था।

यहां से डेरेल मिचेल ने एक्सीलरेटर पर पैर रखा और क्रिस वोक्स के ओवर में दो छ्क्के और एक चौका लगाकर टीम को पहली बार फाइनल में जगह दिला दी। दिलचस्प बात यह है कि न्यूजीलैंड ने इस टूर्नामेंट में पहली बार मिचेल से ओपनिंग करवाई और नतीजा न्यूजीलैंड के पक्ष में गया।


मिचेल ने अद्भुत बल्लेबाजी की: विलियम्सन

न्यूज़ीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने इंग्लैंड के खिलाफ बुधवार को पांच विकेट से जीत दर्ज कर टी 20 विश्व कप के फ़ाइनल में पहुंचने के बाद कहा कि हमने कई मौकों पर एक-दूसरे के साथ खेला है, हम जानते थे कि यह एक शानदार मैच होने वाला है और वास्तव में हमारी पूरी टीम ने बढ़िया खेल दिखाया।

विलियम्सन ने मैच विजयी नाबाद 72 रन बनाने वाले डेरिल मिचेल की जमकर सराहना करते हुए कहा कि शीर्ष पर मिचेल ने अदभुत बल्लेबाज़ी की। उनका असिल चरित्र आज हम सब के सामने खड़ा था। टी 20 क्रिकेट सतह, छोटी बाउंड्री वाली साइड और कई चीजों पर निर्भर रहती है जो खेल में अंतर पैदा करते हैं। हमारे हाथ में विकेट थे जो वास्तव में महत्वपूर्ण थे। नीशम ने आकर कई बड़े शॉट्स लगाए और खेल की गति को बदल दिया।

प्लेयर ऑफ द मैच बने मिचेल ने कहा,''पहले-पहल थोड़ी मुश्किल हुई। पिच थोड़ा सा चुनौतीपूर्ण था, विशेष रूप से शुरुआत में। नई गेंद के साथ बल्ले पर गेंद सही तरीके से नहीं आ रही थी। हालांकि बाद में कॉन्वे ने बढ़िया तरीके से बल्लेबाज़ी की। नीशम ने वास्तव में गेम को हमारी तरफ खींचने में मदद की। हम हमें पता था कि हमें एक या दो बड़े ओवरों की जरूरत है। आधी दुनिया की यात्रा करने के बाद, मेरे पिताजी का यहां होना, मेरे लिए एक अच्छा अनुभव है।''



और भी पढ़ें :