दिनभर उतार-चढ़ाव के बाद मामूली बढ़त में रहा शेयर बाजार

पुनः संशोधित शुक्रवार, 11 सितम्बर 2020 (18:21 IST)
मुंबई। चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव के बीच वृहद आर्थिक आंकड़ों से पहले निवेशकों के सतर्कता बरतने से आज घरेलू में दिनभर उतार-चढ़ाव देखा गया। कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 14 अंक और निफ्टी 15 अंक की बढ़त के साथ एक सप्ताह से अधिक के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ।
बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 14.23 अंक यानी 0.04 प्रतिशत चढ़कर कारोबार की समाप्ति पर 38,854.55 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 15.20 अंक यानी 0.13 प्रतिशत की मजबूती के साथ 11,464.45 अंक पर रहा। यह दोनों सूचकांकों का 3 सितंबर के बाद का उच्चतम स्तर है।

मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों ने ज्यादा विश्वास दिखाया। बीएसई का मिडकैप 0.58 प्रतिशत चढ़कर 14,659.62 अंक पर और स्मॉलकैप 0.52 फीसदी की तेजी के साथ 14,558.27 अंक पर बंद हुआ। आईटी तथा टेक कंपनियों के साथ ही रियलिटी, धातु और एफएमसीजी समूहों में भी लिवाली का जोर रहा। दूरसंचार क्षेत्र पर दबाव रहा। सेंसेक्स में इंडसइंड बैंक और पावरग्रिड ने डेढ़ फीसदी से अधिक का नुकसान उठाया। एशियन पेंट्स, भारती एयरटेल और एचडीएफसी बैंक के शेयर एक प्रतिशत से अधिक टूटे।

भारतीय स्टेट बैंक का शेयर दो प्रतिशत से अधिक चढ़ा। टीसीएस और टेक महिंद्रा से पौने दो फीसदी से अधिक की तेजी रही। बजाज फाइनेंस और हिंदुस्तान यूनिलिवर के शेयर भी एक प्रतिशत से ज्यादा चढ़े। एशियाई शेयर बाजारों में तेजी रही। चीन का शंघाई कंपोजिट 0.79 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 0.78 प्रतिशत, जापान का निक़्केई 0.74 प्रतिशत और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.01 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.31 फीसदी मजबूत हुआ जबकि जर्मनी का डैक्स 0.41 प्रतिशत लुढ़क गया।

सेंसेक्स 24.85 अंक की मजबूती के साथ 38,865.17 अंक पर खुला। कुछ ही देर में यह लाल निशान में चला गया। पूरे दिन बाजार में उतार-चढ़ाव बना रहा। इस दौरान सेंसेक्स ऊपर 38,978.52 अंक तक और नीचे 38,711.80 अंक तक गया। कारोबार की समाप्ति पर यह गत दिवस की तुलना में 0.0.4 प्रतिशत ऊपर 38,854.55 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 2,872 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,413 में लिवाली और 1,271 में बिकवाली का जोर रहा, जबकि शेष 188 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुए।
निफ्टी 1.45 अंक की मामूली गिरावट के साथ 11,447.80 अंक पर खुला। यह ऊपर 11,493.50 अंक तक और नीचे 11,419.90 अंक तक गया। अंत में गत दिवस की तुलना में 0.13 फीसदी की मजबूती के साथ 11,464.45 अंक पर बंद हुआ।

निफ्टी की 50 कंपनियों में से 21 के शेयरों में लिवाली और शेष 29 में बिकवाली का जोर रहा। बीएसई के समूहों में रियलिटी का सूचकांक सर्वाधिक 1.31 प्रतिशत चढ़ा। आईटी समूह में 1.15 प्रतिशत की बढ़त रही। दूरसंचार समूह की 0.97 प्रतिशत और यूटिलिटीज की 0.07 प्रतिशत की गिरावट को छोड़कर अन्य सभी समूहों के सूचकांक हरे निशान में रहे।

सेंसेक्स की कंपनियों में इंडसइंड बैंक का शेयर सर्वाधिक 1.71 प्रतिशत लुढ़का। पावरग्रिड में 1.52 प्रतिशत, एशियन पेंट्स में 1.34 प्रतिशत, भारती एयरटेल में 1.19, एचडीएफसी बैंक में 1.11, आईटीसी में 0.57, मारुति सुजुकी में 0.56, नेस्ले इंडिया में 0.54, अल्ट्राटेक सीमेंट में 0.52 और एचडीएफसी में 0.50 प्रतिशत की गिरावट रही।

एनटीपीसी का शेयर 0.44 प्रतिशत, सनफार्मा का 0.41, ओएनजीसी का 0.34, एलएंडटी का 0.33, महिंद्रा एंड महिंद्रा का 0.28, बजाज फिनसर्व का 0.26, टाटा स्टील का 0.12, एचसीएल टेक्नोलॉजीज का 0.09, आईसीआईसीआई बैंक का 0.08 और एक्सिस बैंक का 0.02 प्रतिशत टूट गया।

भारतीय स्टेट बैंक में सबसे ज्यादा 2.30 प्रतिशत की तेजी रही। टीसीएस का शेयर 1.81 फीसदी, टेक महिंद्रा का 1.76 फीसदी, बजाज फाइनेंस का 1.27, हिंदुस्तान यूनिलिवर का 1.16, कोटक महिंद्रा बैंक का 0.97, टाइटन का 0.88, इंफोसिस का 0.58, रिलायंस इंडस्ट्रीज का 0.18 और बजाज ऑटो का 0.12 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ।(वार्ता)



और भी पढ़ें :