साइना थाईलैंड ओपन बैडमिंटन के दूसरे दौर में, 8वीं सीड से समीर बाहर

Last Updated: बुधवार, 31 जुलाई 2019 (21:26 IST)
बैंकाक। पीवी सिंधू के हट जाने के बाद में भारत की खिताब की सबसे बड़ी उम्मीद 7वीं सीड ने संघर्षपूर्ण जीत के साथ बुधवार को दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया जबकि 8वीं सीड समीर वर्मा पहले ही राउंड में हारकर बाहर हो गए।

5वीं वरीयता प्राप्त भारत के किदाम्बी श्रीकांत, जापान ओपन के सेमीफाइनलिस्ट बी साई प्रणीत और एच एस प्रणय ने दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है। भारत के ही शुभकंर डे भाग्यशाली रहे जिन्हें विश्व के नंबर एक जापान के केंतो मोमोता के खिलाफ पहले राउंड में वॉकओवर मिल गया और उन्हें दूसरे दौर में जगह मिल गई।

चोट के कारण कुछ समय तक कोर्ट से बाहर रहने वाली साइना ने सफल वापसी करते हुये थाईलैंड की फिटायापोर्न चायवान को 39 मिनट में 21-17, 21-19 से हराकर अगले दौर में प्रवेश किया जहां उनका मुकाबला जापान की सयाका ताकाहाशी से होगा। विश्व रैंकिंग में 8वें नंबर की साइना का ताकाहाशी के खिलाफ 4-0 का करियर रिकॉर्ड है। दोनों के बीच आखिरी भिड़ंत 2015 की विश्व चैंपियनशिप में हुई थी।

पुरुषों में 8वीं सीड समीर वर्मा को मलेशिया के ली जी जिया ने 52 मिनट के कड़े संघर्ष में 21-23, 21-11, 21-5 से हरा दिया। विश्व में 10वीं रैंकिंग के खिलाड़ी श्रीकांत को अपने से काफी निचली 96वीं रैंकिंग के चीनी खिलाड़ी रेंग पेंग बो से 1 घंटे 8 मिनट तक 21-13, 17-21, 21-19 से संघर्ष करने के बाद जाकर पहले दौर में जीत मिली। प्रणीत ने पहला गेम हारने के बाद शानदार वापसी करते हुए थाईलैंड के कांताफोन वांगचेरोन को 1 घंटे 11 मिनट के संघर्ष में 17-21 21-17 21-15 से हराया।

टूर्नामेंट में 5वीं वरीय श्रीकांत का बो के खिलाफ करियर में यह पहला मुकाबला था। वह दूसरे दौर में अब थाईलैंड के खोसित फेतप्रदब से भिड़ेंगे जिन्हें इस वर्ष उन्होंने मलेशिया ओपन में भी हराया था। प्रणीत का अगला मुकाबला हमवतन शुभंकर डे से होगा।

प्रणय ने अपने मुकाबले में हॉगकॉग के वांग विंग की विंसेट को लगातार गेमों में 46 मिनट में 21-16, 22-20 से पराजित किया। गैर वरीय भारतीय खिलाड़ी ने इस जीत से विंसेट के खिलाफ करियर रिकॉर्ड 5-1 पहुंचा दिया है। प्रणय का दूसरे दौर में 6ठी सीड जापान के केंता निशिमोतो से मुकाबला होगा।

एक अन्य भारतीय खिलाड़ी 41वीं रैंकिंग के शुभंकर को शीर्ष वरीय मोमोता के टूर्नामेंट से हटने का फायदा मिल गया और वह सीधे दूसरे दौर में पहुंच गए हैं।
गैर वरीय सौरभ वर्मा को पुरुष एकल जबकि महिला एकल में भारत की साई उत्तेजिता राव चुक्का को पहले ही दौर में हार का सामना करना पड़ा। हालांकि मिश्रित युगल में सात्विकसेराज रैंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा ने कड़े संघर्ष के बाद दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया।

सौरभ को 7वीं वरीय जापान के कांता सूनेयामा से 1 घंटे 4 मिनट के कड़े संघर्ष के बाद 23-21, 19-21, 21-5 से हार झेलकर बाहर होना पड़ा है। उत्तेजिता को चीन की चेन जियाओ जिन ने 27 मिनट में 21-17, 21-7 से हराया।

मिश्रित युगल की भारतीय जोड़ी सात्विकसेराज और अश्विनी को भी पहले ही दौर में शिकस्त मिल गई। उन्हें 5वीं वरीय मलेशिया के चान पेंग सून और गोह लियू यिंग ने 1 घंटे 2 मिनट के संघर्ष में 21-18, 18-21, 21-17 से पराजित किया।

हालांकि प्रणव जैरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी की जोड़ी ने जीत के साथ दूसरे दौर में जगह बना ली है। उन्होंने जापान के कोहेई गोंडो और आयाने कुरीहारा को 36 मिनट तक चले मैच में 21-16, 21-13 से लगातार गेमों में हराया।



और भी पढ़ें :