बैडमिंटन से लेकर फुटबॉल तक, कोरोना ने भारत में लगाया इन खेलों पर ब्रेक

Badminton tournament
पुनः संशोधित मंगलवार, 6 अप्रैल 2021 (23:06 IST)
नई दिल्ली:पिछले साल के जैसे ही कोरोना के कारण खेलों के मैदान सूने पड़े हैं। एक के बाद एक टूर्नामेंट स्थगित होते जा रहे हैं। कोविड की दूसरी लहर पहले से भी ज्यादा संक्रमण कर रही है इस कारण यह जरूरी भी है।भारत में होने वाले आगामी घरेलू टूर्नामेंट देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिए गए हैं।
भारतीय बैडमिंटन संघ ने सोमवार शाम को एक विज्ञप्ति जारी कर यह जानकारी दी । विज्ञप्ति के अनुसार पिछले 24 घंटों में एक लाख चार हजार कोरोना मामले सामने आये हैं और स्थिति इस समय गंभीर दिखाई दे रही है। संघ के अध्यक्ष ने खिलाड़ियों, तकनीकी अधिकारियों और प्रशासनिक अधिकारियों के स्वास्थ्य के मद्देनजर आगामी अखिल भारतीय रैंकिंग टूर्नामेंटों को अगले आदेश तक स्थगित रखने का फैसला किया है। इसमें 18 से 25 अप्रैल तक बेंगलुरु में होने वाला अखिल भारतीय रैंकिंग टूर्नामेंट शामिल है जिसके लिए देश भर से लगभग 2000 प्रविष्टियां आ चुकी हैं जबकि बेंगलुरु और हैदराबाद में कोरोना के मामले बढ़ चुके हैं और बाई को अखिल भारतीय टूर्नामेंटों को अगले आदेश तक स्थगित करने के लिए मजबूर होना पड़ा है।
महिला लीग को ओडिशा में कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के कारण टाला गया
इस महीने ओडिशा में प्रस्तावित भारतीय महिला लीग (आईडब्ल्यूएल) फुटबॉल टूर्नामेंट को राज्य में कोविड-19 के बढ़ते मामले के कारण मंगलवार को अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया।
अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) ने यह जानकारी देते हुए कहा कि टूर्नामेंट के आयोजन पर बाद में फैसला होगा। इससे पहले एआईएफएफ ने कहा था कि टूर्नामेंट को मई में कराया जायेगा।

एआईएफएफ से जारी बयान के मुताबिक, ‘‘इस महीने के आखिर में ओडिशा में होने वाली हीरो भारतीय महिला लीग को अगली सूचना तक के लिए टाल दिया गया है।’’

एआईएफएफ ने कहा कि यह फैसला राज्य में महामारी की बढ़ती संख्या के बीच खिलाड़ियों और अधिकारियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ओडिशा स्पोर्ट्स (राज्य खेल विभाग) के साथ चर्चा के बाद लिया गया।
उन्होंने कहा, ‘‘ स्वास्थ्य मानकों में सुधार होने के बाद एआईएफएफ ओडिशा स्पोर्ट्स और भाग लेने वाली टीमों के साथ मिलकर स्थिति का जायजा लेगा।’’

एआईएफएफ ने तीन दिन पहले इस टूर्नामेंट के प्लेऑफ मैचों को भी स्थिगित कर दिया था। प्लेऑफ मुकाबले बुधवार से दिल्ली में खेले जाने थे।ओडिशा में कोविड-19 के मामले बढ़ रहे है। राज्य में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 573 जबकि मंगलवार को 588 मामले दर्ज किये गये।
11 हॉकी खिलाड़ियों को कोरोना संक्रमण होने के बाद राष्ट्रीय सब जूनियर महिला हॉकी टूर्नामेंट भी हुआ था स्थगित
इससे पहले झारखंड में ग्यारह खिलाड़ी और कोच कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि के बाद सिमडेगा जिले में इस वर्ष 03 अप्रैल से शुरू होने वाली राष्ट्रीय जूनियर महिला हॉकी चैंपियनशिप को स्थगित कर दिया गया था।
चैंपियनशिप में भाग लेने के लिए चंडीगढ़ से आई टीम की पांच और झारखंड टीम की छह खिलाड़ी सहित एक कोच के कोरोना संक्रमित पाए जाने की पुष्टि होने के बाद यह निर्णय लिया गया था। खिलाड़ियों को आइसोलेट किया गया है और एस्ट्रोटर्फ स्टेडियम को सैनिटाइज करने का आदेश दिया गया है। वहीं, एस्ट्रोटर्फ स्टेडियम को कंटेंटमेंट जोन घोषित किया गया है। खिलाड़ियों के संपर्क में आनेवाले अन्य लोगों की भी जांच की जा रही है।
सिमडेगा उपायुक्त सुशांत गौरव ने बुधवार बताया कि हॉकी इंडिया और हॉकी झारखंड की सहमति से यह निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि जिले में कोरोना पर अंकुश लगाने के लिए जिला प्रशासन लगातार प्रयासरत है।

उल्लेखनीय है कि सिमडेगा में महिला सब जूनियर हॉकी चैंपियनशिप के सफल आयोजन के बाद 03 अप्रैल से राष्ट्रीय जूनियर महिला हॉकी चैंपियनशिप के लिए तैयारियां जोरों पर थी। पिछले हफ्ते चंडीगढ़ की टीम का सिमडेगा में भव्य स्वागत भी किया गया था लेकिन उसी टीम की पांच खिलाड़ी कोरोना जांच में पॉजिटिव पाए गए। इतना ही नहीं झारखंड टीम की भी छह खिलाड़ियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।



और भी पढ़ें :