भारतीय महिला खिलाड़ी पीवी सिंधू और साइना नेहवाल पर होगी प्रशंसकों की खास नजर

पुनः संशोधित सोमवार, 11 नवंबर 2019 (18:02 IST)
हॉगकॉग। सात्विक साइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की भारतीय पुरुष जोड़ी अपने शानदार प्रदर्शन को मंगलवार से यहां शुरू हो रहे में जारी रखना चाहेंगे लेकिन प्रशंसकों की नजरें पीवी सिंधू और के खेल पर होगी जो एक बार फिर शुरुआती दौर से बाहर होने से बचना चाहेंगी।

विश्व रैंकिंग में 9वें स्थान पर काबिज भारतीय जोड़ी फ्रेंच ओपन की उपविजेता रही थी जबकि पिछले सप्ताह उन्होंने चीन ओपन के सेमीफाइनल में जगह पक्की की थी।

4 लाख डॉलर इनामी राशि वाले इस टूर्नामेंट में सात्विक और चिराग की जोड़ी से एक बार फिर अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी जो जापान के ताकुरो होकि और युगो कोबायाशि की जोड़ी के खिलाफ अपने अभियान को शुरू करेंगे।
सिंधू और साइना अगस्त में हुए विश्व चैम्पियन के बाद दमदार प्रदर्शन करने में नाकाम रहे है और पिछले कुछ टूर्नामेंटों के शुरुआती दौर में बाहर हो गए।

फ्रेंच ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली सिंधू ने इस साल विश्व चैम्पियनशिप का खिताब अपने नाम किया है जबकि साइना ने इंडोनेशिया ओपन का खिताब जीता है। इन टूर्नामेंटों को छोड़कर दोनों भारतीय खिलाड़ी पहले या दूसरे दौर में बाहर हो गए।

सिंधू को पिछले सप्ताह चीन ओपन के पहले दौर में ताइवान की कम रैंकिंग वाली वाली खिलाड़ी पायूपो ने हराया था जब कि साइना का सफर चीन की काइ यान यान ने खत्म किया था।

खास बात यह है कि साइन हॉगकॉग ओपन में इसी खिलाड़ी के खिलाफ अपना अभियान शुरु करेंगी। साइना की कोशिश विश्व रैंकिंग में 22वें स्थान पर काबिज खिलाड़ी के खिलाफ हिसाब बराकर करने की होगी।

छठी वरीयता प्राप्त सिंधू पहले दौर में विश्व रैंकिंग में 19वें पायदान पर काबिज कोरिया की किम गा ईयुन से भिड़ेंगी। पुरुषों के वर्ग में इस साल इंडिया ओपन के फाइनल में पहुंचने वाले किदांबी श्रीकांत के सामने पहले दौर में विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर काबिज केंटो मोमोटा की मुश्किल चुनौती होगी।
विश्व रैंकिंग में 10वें स्थान पर काबिज श्रीकांत और मोमोटा 15 बार एक दूसरे के खिलाफ कोर्ट में उतरे है जिसमें से भारतीय खिलाड़ी को सिर्फ 3 बार सफलता मिली है। विश्व चैम्पियनशिप के कांस्य पदक विजेता साइ प्रणीत को भी पहले दौर में मुश्किल ड्रॉ मिला है जहां उनका सामना तीसरी वरीयता प्राप्त चीन के शी यू क्वी की से होगा।

समीर वर्मा ताइवान के वैंग त्जू वी जबकि एच एस प्रणय चीन के हुआंग यू जियांग के खिलाफ अपने अभियान का आगाज करेंगे। परुपल्ली कश्यप शुरुआती दौर में जापान के केंटा निशिमोटो से भिड़ेंगे। अन्य भारतीयों में सात्विक मिश्रित युगल में अश्विनी पोनप्पा के साथ जोड़ी बनाएंगे।

पहले दौर में भारतीय जोड़ी के सामने थाईलैंड के निपीतफोन फुन्गुफुपेत और सावित्री अमित्रापाई की चुनौती होगी। अश्विनी और एन सिक्की रेड्डी महिला युगल में जबकि प्रणव जेरी चोपड़ा और सिक्की मिश्रित युगल में भारतीय की अगुवाई करेंगे।



और भी पढ़ें :