हैट्रिक भी नहीं बचा पायी हार, जूनियर हॉकी विश्वकप में फ्रांस ने भारत को 5-4 से हराया

पुनः संशोधित गुरुवार, 25 नवंबर 2021 (12:58 IST)
भुवनेश्वर:उप-कप्तान के हैट्रिक गोल के बाद भी खिताब की दावेदार भारतीय टीम को ने बुधवार को यहां एफआईएच के पूल बी के मैच में 5-4 से हरा दिया।

फ्रांस के लिए कप्तान टिमोथी क्लेमेंट (पहला, 23वां और 32वां मिनट) ने हैट्रिक गोल किया, जबकि बेंजामिन मार्के (सातवें) और कोरेंटिन सेलियर (48वें मिनट) ने विश्व रैंकिंग में 26वें स्थान पर काबिज टीम के लिए दो अन्य गोल किये।

गत चैंपियन के लिए संजय (15वें, 57वें, 58वें) ने तीन पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला जबकि मेजबान टीम के लिए दूसरा गोल उत्तम सिंह (10वें मिनट) में किया।

फ्रांस के क्लेमेंट ने मैच के पहले मिनट में भारतीय रक्षापंक्ति की लापरवाही का फायदा उठाते हुए गोल कर चौंका दिया। जब फ्रांस ने भारत पर दबाव बनाया हुए तीन मिनट के अंदर मार्केने टीम के लिए दूसरा गोल कर दिया।

दो गोल से पिछड़ने के बाद गत चैंपियन टीम ने फ्रांस के खिलाफ हमलों की झड़ी लगाकर दबाव बनाने की कोशिश की और इसका फायदा भी हुआ। मैच के दसवें मिनट में उत्तम सिंह के गोल से भारतीय टीम ने वापसी की और पांच मिनट के बाद संजय ने पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला जिससे स्कोर 2-2 हो गया।

दूसरे और तीसरे क्वार्टर में फ्रांस के कप्तान ने दो और गोल किया जिससे मैच के 23वें मिनट में टीम की बढ़त 3-2 और फिर 32वें मिनट में 4-2 हो गयी। भारत को भी 38वें मिनट में पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन यह प्रयास बेकार चला गया।

भारतीय टीम ने मैच में वापसी के लिए चौथे क्वार्टर में अपना सब कुछ झोंक दिया लेकिन 48वें मिनट में रक्षापंक्ति की कमजोरी का फायदा उठाते हुए सेलियर ने गोल कर दिया और फ्रांस की बढ़त 5-2 की हो गयी।

तीन गोल से पिछड़ने के बाद भारत ने फ्रांस के खेमे में हमला तेज किया और 57वें और 58वें मिनट में उसे पेनल्टी कार्नर मिला, संजय ने इन दोनों को गोल में बदल कर भारत की उम्मीदें जगायी। आखरी डेढ़ मिनट में टीम ने कुछ और प्रयास किये लेकिन सफलता नहीं मिली। (भाषा)



और भी पढ़ें :