All England Championship: लक्ष्य सेन फाइनल में हारे, नंबर-1 विक्टर एक्सेलसेन दूसरी बार बने चैंपियन

Last Updated: सोमवार, 21 मार्च 2022 (08:06 IST)
हमें फॉलो करें
बर्मिंघम। शीर्ष वरीयता प्राप्त डेनमार्क के ने अपने अनुभव का पूरा फायदा उठाते हुए भारत के युवा खिलाड़ी को रविवार को लगातार गेमों में 21-10, 21-15 से हराकर आल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप में पुरुष एकल खिताब जीत लिया।
विक्टर ने यह मुकाबला 53 मिनट में जीता। विक्टर ने दूसरी बार यह खिताब जीता है। उन्होंने 2020 में भी यह खिताब अपने नाम किया था। लक्ष्य अपनी तमाम कोशिशों के बावजूद विक्टर से पार नहीं पा सके। लक्ष्य यह मौका चूकने से महान प्रकाश पादुकोण (1980) और पुलेला गोपीचंद (2001) की श्रेणी में नहीं पहुंच सके।
Koo App
20-year-old #LakshyaSen of #India is all set for the match of his career so far - the of the YONEX All-#England Badminton tournament on Sunday day - versus the No. 1 seed of Denmark. While Axelsen is the favourite, Sen has become a dangerous adversary. - IANS (@IANS) 20 Mar 2022
इससे पहले दूसरी सीड जापान की अकाने यामागुची ने चौथी सीड दक्षिण कोरिया की एएन सियंग को को 21-15 21-15 से हराकर महिला एकल खिताब जीत लिया। यामागुची ने इस एकतरफा मुकाबले को निपटाने में 44 मिनट का समय लगाया और पहली बार यह खिताब जीता।

यामागुची की यह सफलता टूर्नामेंट में लगातार दूसरे साल जापान की कामयाबी है। पिछले साल जापान की नोजोमी ओकुहारा ने यह खिताब जीता था। पुरुष युगल खिताब इंडोनेशिया के हिस्से में गया जबकि महिला युगल और मिश्रित युगल खिताब जापान के हिस्से में गए। जापान ने प्रतियोगिता में तीन खिताब जीतकर खुद को बैडमिंटन की नयी ताकत साबित कर दिया।



और भी पढ़ें :