0

Shri Laxmi Suktam in hindi : शरद पूनम पर लक्ष्मीसूक्तम्‌ का यह पाठ करेगा मां लक्ष्मी को प्रसन्न

शुक्रवार,अक्टूबर 30, 2020
0
1
दूध, मखाने, मिश्री, मक्खन, बताशे, रूई(कपास) चिरौंजी, खीर, सफेद फूल, चांदी की चूड़ियां और शहद आदि चांदी की थाली में सजाकर मां लक्ष्मी को चढ़ाएं और फिर चांदी की प्याली में खीर का भोग चंद्रमा को लगाएं।
1
2
पढ़ें श्री लक्ष्मी चालीसा..यह पाठ देता है मनचाहा वरदान
2
3
30 अक्टूबर 2020 शाम को 5 बजकर 45 मिनट से शरद पूर्णिमा लग जाएगी। जानिए 30 और 31 दोनों तिथियों के शुभ मुहूर्त ...
3
4
प्रस्तुत है इन्द्र द्वारा रचित महालक्ष्मी कृपा प्रार्थना स्तोत्र...जिसमें श्री महालक्ष्मी की अत्यंत सुंदर उपासना की गई है।
4
4
5
प्रस्तुत है चंद्रमा के 111 ऐसे नाम, जिनके जप से चंद्रदेव प्रसन्न होते हैं। मन का विश्वास बढ़ाने में भी यह नाम कारगर है क्योंकि चंद्र मन का कारक ग्रह है।
5
6
इस पूर्णिमा को कोजागरी पूर्णिमा या कोजागरी लक्ष्मी पूजा भी कहते हैं। पौराणिक मान्यता के अनुसार, शरद पूर्णिमा के दिन माता लक्ष्मी जी का अवतरण हुआ था।
6
7
शरद पूर्णिमा पर आइए जानते हैं कुछ खास सरल उपाय साथ ही जानते हैं शरद पूर्णिमा की रात मां लक्ष्मी को मनाने का मंत्र...
7
8
यदि इस दिन आप ये 5 वर्जित कार्य करेंगे तो नुकसान उठाएंगे। यह नियम शरद पूर्णिमा के साथ सभी पूर्णिमा पर लागू होते हैं।
8
8
9
दूध में केसर घुली चांदनी जब बरसेगी हमारे आंगन में तब शरद की पूनम का दिन होगा...इस बार शरद पूर्णिमा 30 अक्टूबर को है। शरद पूर्णिमा से ही शरद ऋतु का आगमन होता है।
9
10
शरद पूर्णिमा की रात ये 8 या इनमें से कोई एक काम अवश्य करें।
10
11
आश्‍विन माह की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहा जाता है। इस दिन आसमान में चंद्र नीले रंग का दिखाई देते है इसलिए इसे ब्लू मून भी कहते हैं। इस दिन खासतौर पर यह 5 कार्य जरूर करें।
11
12
चंद्र मंत्र मन की शांति और शीतलता के साथ अपार धन, धान्य, संपत्ति और ऐश्वर्य देते हैं... इस शरद पूर्णिमा की रात 5 विशेष मंत्रों से मिलेगी चंद्र देव की कृपा...
12
13
आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को शरद पूर्णिमा या आश्विन पूर्णिमा कहते हैं। इस बार यह पूर्णिमा 30 अक्टूबर 2020 को है।
13
14
इस दिन चंद्रमा उदय की दिशा में लकड़ी की चौकी पर (सातिया) स्वास्तिक बनाकर उस पर पानी का लोटा भरकर रखें।
14
15
शरद पूर्णिमा के दिन खीर खाने या दूध पीने के प्रचलन हैं। आखिर इस दिन खीर क्यों खाते हैं? क्या है इसका वैज्ञानिक कारण और रहस्य जानिए 5 कारण।
15
16
अगर आप इस बार शरद पूर्णिमा का व्रत-उपवास रखने वाले हैं, तो आपको कुछ जरूरी बातों पर भी ध्यान देना चाहिए और यह 5 सावधानियां जरूर बरतनी चाहिए....
16
17
शरद पूर्णिमा की रात मां लक्ष्मी विशेष प्रसन्न होती हैं क्योंकि मान्यतानुसार इस दिन समुद्र मंथन से वे अवतरित हुई थीं...अत: शरद पूनम पर मां लक्ष्मी की आराधना अवश्य करें।
17
18
कुबेर धन के राजा हैं। धन के अधिपति होने के कारण इन्हें शरद पूर्णिमा की रात मंत्र साधना द्वारा प्रसन्न करने का विधान बताया गया है। प्रस्तुत है मंत्र ...
18
19
खीर बनाने से एक-दो घंटे पूर्व चावल धोकर पानी में गला दें। दूध को मोटे तले वाले बर्तन में डालकर गैस पर चढ़ा दें। चार-पांच उबाल लें।
19