शनिवार, 20 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. Yogi Adityanath said, a person who thinks about himself cannot be a saint
Written By
Last Modified: बुधवार, 16 नवंबर 2022 (17:31 IST)

स्वयं के बारे में सोचने वाला व्यक्ति संत नहीं हो सकता : योगी आदित्यनाथ

Yogi Adityanath
बलरामपुर (उतर प्रदेश)। उतर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि अपने बारे में सोचने वाला व्यक्ति कभी संत नहीं हो सकता है, वह सिर्फ स्वार्थी होता है। उन्होंने कहा कि देश और समाज के हित में सोचने वाला व्यक्ति संत होता है।

यहां आदिशक्ति पीठ देवी पाटन मंदिर तुलसीपुर में ब्रह्मलीन महेंद्रनाथ जी की 22वीं पुण्यतिथि में हिस्सा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री ने कहा कि धार्मिक स्थल सिर्फ उपासना के केंद्र नहीं बल्कि एकता भाव के संदेश देते हैं।

उन्होंने कहा, शक्ति पीठ देवी पाटन मंदिर भारत, नेपाल के बीच सेतु का काम कर सकता है। चैत्र नवरात्रि में हजारों श्रद्धालु नेपाल से देवी पाटन मंदिर आते हैं। मैं पिछले 22 वर्ष से श्रद्धाजंलि सभा में आता रहा हूं। ब्रह्मलीन महेंद्रनाथ जी ने देवी पाटन मंदिर को सजाने और संवारने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

तुलसीपुर के विधायक कैलाश नाथ शुक्ला, सदर विधायक पलटूराम, उतरौला विधायक राम प्रताप वर्मा, पूर्व सांसद दद्दन मिश्रा, पूर्व विधायक शैलेश कुमार सिंह शेलु, विधान परिषद सदस्य अवधेश सिंह उर्फ मंजू सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष आरती तिवारी, अयोध्या के संत सुरेश दास जी, हनुमानगड़ी मंदिर के राजू दास सहित अनेक वक्ताओं ने श्रद्धांजलि सभा को संबोधित किया।(भाषा)
Edited by : Chetan Gour
ये भी पढ़ें
टीवी खेल बाजार बढ़कर 9830 करोड़ रुपए होगा, रिपोर्ट में जताया अनुमान