उत्तराखंड के CM तीरथ सिंह रावत का इस्तीफा

Tirath singh
निष्ठा पांडे| Last Updated: शनिवार, 3 जुलाई 2021 (00:09 IST)
हमें फॉलो करें
देहरादून। के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार रात को 11 बजे बाद राजभवन पहुंचकर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को

इस्तीफा सौंप दिया। उनके इस्तीफे के साथ ही नए मुख्यमंत्री चुनने का रास्ता साफ़ हो गया।

यहां राजभवन पहुंचकर अपना इस्तीफा देने के बाद मुख्यमंत्री रावत ने बताया कि उनका इस्तीफा देने की मुख्य वजह संवैधानिक संकट था, जिसमें निर्वाचन आयोग के लिए चुनाव कराना मुश्किल था। रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित अपने केंद्रीय नेतृत्व का आभार व्यक्त किया और कहा कि उन्होंने उन्हें उच्च पदों पर सेवा करने का मौका दिया।

शनिवार को चुना जाएगा नया नेता :मुख्यमंत्री रावत के साथ मौजूद प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि नए नेता का चयन करने के लिए शनिवार को पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में विधायक दल की महत्वपूर्ण बैठक बुलाई गई है। शनिवार को अपराह्न तीन बजे बुलाई गई इस बैठक की अध्यक्षता स्वयं प्रदेश अध्यक्ष कौशिक करेंगे। उन्होंने बताया कि पार्टी की ओर से सभी विधायकों को शनिवार की बैठक में उपस्थित रहने की सूचना दे दी गई है।

5 नाम दौड़ में सबसे आगे : मुख्‍यमंत्री पद के लिए इस समय 5 नाम चर्चा में हैं। उनमें धनसिंह रावत, सतपाल महाराज, मदन कौशिक, बंशीधर भगत, बिष्णु सिंह चुफाल के नाम चर्चा में हैं। धनसिंह को इस दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा है क्योंकि उन्हें संघ का करीबी माना जाता है साथ ही त्रिवेन्द्र सिंह रावत के इस्तीफे के बाद उनका नाम भी मुख्‍यमंत्री पद के लिए चला था।

इस्तीफे से पहले‍ गिनाईं उपलब्धियां :

देर रात उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके अपनी उपलब्धियां गिनाईं, लेकिन उन्होंने पत्रकारों के सवाल पूछने पर भी ये नहीं कहा कि मैं इस्तीफा देने जा रहा हूं। रात 9 बजकर 50 मिनट पर सचिवालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके उन्होंने सबका धन्यवाद किया और अपनी कुर्सी से उठकर चले गए। पत्रकार सवाल दागते रहे, लेकिन उन्होंने किसी का कोई जवाब नहीं दिया।
उन्होंने अपने कार्यकाल की उपलब्धियों की जानकारी दी। साथ ही कोविड महामारी के दौरान राहत कार्यों की जानकारी दी। साथ ही कहा लगभग 2000 करोड़ राहत सहायता करोड़ प्रदान करने जा रहे हैं। रोजगार देने के लिए सीधी भर्ती प्रक्रिया करेंगे। 22 हजार 340 पदों को आगामी छह माह में भरने जा रहे हैं।

रावत ने बताया कि किस विभाग में कितने पद भरे जाएंगे। कक्षा 11 व 12 के विद्यार्थियों के लिए लैपटॉप प्रदान करने का निर्णय किया है। फिर कहा कि बहुत-बहुत धन्यवाद। इसके बाद कुर्सी से उठकर चले गए। इससे पहले शुक्रवार की दोपहर बाद मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को अपना इस्तीफे देने की पेशकश की थी।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर पर्यवेक्षक के रूप में शनिवार को देहरादून पहुंच रहे हैं। उनकी उपस्थिति में भाजपा विधानमंडल की बैठक की जानी है। इसमें विधानमंडल दल का नेता चुना जाना है। बैठक शनिवार को
अपराह्न तीन बजे बीजेपी कार्यालय में होगी।



और भी पढ़ें :