बिना अनुमति बिहार विधानसभा परिसर में घुसे तेजप्रताप के अंगरक्षक

पटना| पुनः संशोधित बुधवार, 13 फ़रवरी 2019 (23:28 IST)
पटना। राजद विधायक और पूर्व मंत्री के निजी अंगरक्षकों का एक दल बिना अनुमति के बुधवार को बिहार विधानसभा परिसर में घूमते हुए मिला। इसके बाद सूबे के पुलिस महानिदेशक ने परिसर की सुरक्षा में चूक की घटना के जांच के आदेश दिए।
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप ने हालांकि खुद का बचाव करते हुए कहा, 'अगर मैं अपनी सुरक्षा का ध्यान नहीं रखता तो मुझे कौन सुरक्षा प्रदान करेगा'।

सफारी सूट पहने बिहार विधानसभा परिसर के भीतर घूमते मिले तेजप्रताप के इन निजी अंगरक्षकों से जब पत्रकारों ने पूछे कि बिना अनमुति के उन्होंने कैसे परिसर में प्रवेश किया तो अंगरक्षकों ने कोई टिप्पणी करने से इंकार कर दिया और एक वाहन पर सवार होकर परिसर से चले गए।
सुरक्षाकर्मियों ने बिहार विधानसभा परिसर की सुरक्षा का उल्लंघन नहीं होने का दावा करते हुए कहा कि ये लोग प्रतिबंधित क्षेत्र में नहीं गए थे।

हालांकि कुछ ही क्षण बाद बिहार विधानसभा परिसर पहुंचे पुलिस महानिदेशक ने पत्रकारों से कहा कि उन्होंने पटना की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गरिमा मल्लिक से विधानसभा परिसर की सुरक्षा में किसी भी तरह की चूक की पूरी जांच करने को कहा है। किसी के दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।
तेजप्रताप ने दोपहर के भोजन के समय विधानसभा से बाहर निकलते हुए संवाददाताओं से कहा, 'मुझे अपने लिए पर्याप्त सुरक्षा की आवश्यकता है और अगर मैं इसकी व्यवस्था नहीं करता हूं, तो कौन करेगा। क्या मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मुझे पर्याप्त सुरक्षा प्रदान करेंगे।'

तेजप्रताप ने दिसंबर 2017 में अपने पिता जो वर्तमान में चारा घोटाले से संबंधित मामलों में सजायाफ्ता हैं, की सुरक्षा हटाए जाने पर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला था तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :