शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. धर्म-दर्शन
  3. हिन्दू धर्म
  4. Dattatreya puja ka shubh muhurat vidhi
Written By

दत्तात्रेय जयन्ती कब है, जानिए पूजा का शुभ मुहूर्त

Dattatreya Jayanti 2023
Dattatreya Jayanti 2023: श्री भगवान दत्तात्रेय का जन्म मार्गशीर्ष माह की पूर्णिमा के दिन हुआ था। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार इस बार यह दत्तात्रेय जयंती 26 दिवसंबर मंगलवार के दिन मनाई जाएगी। दत्त महाराज को श्री हरि विष्णु का अंशावतार मना जाता है। आओ जानते हैं कि दत्त जयंती पर इनकी पूजा का कब है शुभ महुर्त।
 
पूर्णिमा तिथि प्रारम्भ- 26 दिसम्बर 2023 को सुबह 05:46 से प्रारंभ।
पूर्णिमा तिथि समाप्त- 27 दिसम्बर 2023 को सुबह 06:02 पर समाप्त।

पूजा का शुभ मुहूर्त :-
  1. अभिजीत मुहूर्त : दोपहर 12:01 से 12:42 तक।
  2. अमृत काल : दोपहर 01:18 से दोपहर 02:56 तक।
  3. विजय मुहूर्त: दोपहर 02:05 से दोपहर 02:46 तक।
  4. गोधूलि मुहूर्त : शाम 05:29 से शाम 05:56 तक।
  5. सन्ध्या काल मुहूर्त : शाम 05:31 से 06:53 तक।
दत्तात्रेय जयंती पर पूजा विधि (Dattatreya Jayanti Puja Vidhi)
 
1. दत्तात्रेय जयंती के दिन साधक को सुबह जल्दी उठकर स्नान करना चाहिए और साफ वस्त्र धारण करने चाहिए। 
 
2. इसके बाद साधक चाहें तो मंदिर में जाकर भगवान दत्तात्रेय की पूजा कर सकता है या फिर अपने घर पर ही भगवान दत्तात्रेय की पूजा कर सकता है। 
 
3. साधक को दत्तात्रेय की पूजा करने से पहले एक चौकी पर गंगाजल छिड़कर उस पर साफ वस्त्र बिछाना चाहिए और भगवान दत्तात्रेय की तस्वीर स्थापित करनी चाहिए। 
 
4. इसके बाद भगवान दत्तात्रेय को फूल, माला आदि अर्पित करके उनकी धूप व दीप से विधिवत पूजा करनी चाहिए।
 
5. साधक को इस दिन भगवान के प्रवचन वाली अवधूत गीता और जीवनमुक्ता गीता अवश्य पढ़नी चाहिए।