जन्मदिन विशेष : कर्तव्य पथ पर अविचल कर्मयोगी हैं मोदी जी: शिवराज सिंह चौहान

shivraj and modi
पुनः संशोधित शुक्रवार, 17 सितम्बर 2021 (12:28 IST)

श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में नए भारत का निर्माण हो रहा है एक ऐसा भारत जो आधुनिकता के साथ अपनी सांस्कृतिक विरासत पर गर्व करता हो, एक ऐसा भारत जो आत्मनिर्भर बनने को संकल्पित है, जनसंघ के आदर्शों को आज हम जिन कृतिरूप में देख पा रहे, उसमें उनके अथक परिश्रमों का योगदान अप्रतिम है। मुझे उनके नेतृत्व के कई आयामों को नजदीक से अनुभव करने का अवसर मिला। एकता यात्रा हो, गुजरात का महाविनाशक भूकम्प हो, गुजरात का सर्वांगीण विकास हो या फिर अंतिम व्यक्ति तक विकास पहुँचाने के लिये आवश्यक कठोर प्रशासक के रुप में मोदी जी ने प्रत्येक दायित्व को निष्ठा से निभाया है।

आज मोदी जी के प्रधानमंत्री रहते हुए, भारत पुन: समृद्धशाली, शक्तिशाली, वैभवशाली, सम्पन्न और सशक्त होने के गौरव को प्राप्त कर रहा है। उनके नेतृत्व के सात वर्ष हमारे इतिहास के स्वर्णिम वर्षों में से एक हैं, राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति “जीरो टोलेरेंस के कारण, विश्व मंच पर आंतकी फंडिंग पर कार्यवाही और भारतीय सेना के सशक्तीकरण के परिणाम स्वरूप सीमा पर आतंक के खात्मे से साफ नजर आ रहे हैं। राष्ट्र की अखण्डता, सम्प्रभुता और हितों की रक्षा की प्रतिबद्धता उनके नेतृत्व में स्थापित हुई है, सीमा सुरक्षा के लिये सामरिक महत्व के प्रोजेक्ट को पूरा करने की प्रतिबद्धता व प्राथमिकता अप्रतिम उदाहरण है।

लद्दाख व जम्मू काश्मीर को भारत की मुख्यधारा से जोड़ने के लिये धारा 370 व 35ए को खत्म करना हो या फिर रक्षा क्षेत्र में शक्तिमान भारत और आत्मनिर्भर भारत से रक्षा उत्पादन क्षेत्र में रिफोर्म वर्षों की जंग खायी व्यवस्थाओं पर आघात करते हैं। डोकलाम विवाद हो या फिर अपनी पसंद की जगह व समय पर राष्ट्रहितों के लिए की गई "सर्जिकल स्ट्राईक" हो उनके नेतृत्व का दर्शन कराती है।
“विकास के प्रकाश" को सम्पूर्ण भारत में पहुँचाने के यज्ञ में, मध्यप्रदेश भी कदम से कदम मिलाकर चल रहा है। आत्मनिर्भर भारत मिशन के अनुरुप मध्यप्रदेश का रोडमैप तैयार किया गया है, हम मध्यप्रदेश में “मेक इन इंडिया व ईज आफ डूईंग बिजनेस के लिए आवश्यक कदम उठा रहे हैं। उनके सर्व समावेशी विकास में गरीब, किसान, महिलाओं व पिछड़े वर्गों के आर्थिक उन्नयन के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं। उनके द्वारा क्रियान्वित हर योजना को शब्द व आत्मा से मध्यप्रदेश भी पूरा करने में जुटा है, विशेषकर पीएम आवास, उज्वला, महिला स्वसहायता, फसल बीमा योजना, कौशल विकास जैसी अति महत्वपूर्ण योजनाओं के क्रियान्वयन में हम पूरे प्रयास कर रहे हैं।

उनके भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टालरेंस" व "ना खाऊंगा न खाने दूँगा" जैसे प्रयासों का हमें भी लाभ मिला है। जेम, जन धन, आधार व मोबाईल की त्रिवेणी में आज मध्यप्रदेश के करोड़ों लोगों तक बिना बाधा के सहायता पहुँच रही है। डिजिटल इंडिया व फाईवर ऑप्टिक नेटवर्क योजनाओं ने हमारे प्रदेश को भी हाईवे के साथ "आई वेव नॉलेज वे" से जोड़कर कनेक्टिविटी की बाधाओं को दूर किया है, मध्यप्रदेश को देश के चारों कोनों से जोड़ने के लिये बनाये जा रहे राजमार्गों से अपनी आर्थिक उन्नति के लिए आवश्यक अधोसंरचना विकास का लाभ मिल रहा है। "एक भारत श्रेष्ठ भारत के मंत्र के साथ उनके मार्गदर्शन में मध्यप्रदेश भी आगे बढ रहा है।

आपकी नेतृत्व कुशलता को पूरे विश्व ने स्वीकार किया है, आपके बिना अब विश्व मंच अधूरा होता है, कोरोना महामारी जैसी वैश्विक आपदा में आपने भारत ही नहीं, भारत की तरफ सहयोग की अपेक्षा रखने वाले प्रत्येक राष्ट्र का सहोदर भाव से सहयोग किया है। मोदी जी के नेतृत्व में भारत अब विश्व की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनने जा रहा है, हम आपके "मिनिमम गर्वनमेंट, मेक्सीमम गर्वनेंस" के आदर्शों पर चलकर “सुशासन व स्वराज” को मूर्तरूप से क्रियान्वित करने कटिबद्ध है।
मैं अक्सर कहता हूँ कि वे
"मेन ऑफ आइडियाज" हैं, परन्तु उन "आयडियाज" के अंकुरों को उन्होंने क्रियारूप में वटवृक्ष में बदल दिया है, हर मंच पर चाहे वो खेल हो, आर्थिक आवश्यकता हो, आपके 'आयडियाज" अंधकार में सूर्य के प्रकाश का कार्य करते हैं। आज "नयी शिक्षा नीति 2020" के माध्यम से जो आपने "स्किल इंडिया" के माध्यम से भारत ही नहीं विश्व में उभरने वाले मजदूर संकट को, भारत के युवाओं के माध्यम से समाप्त करने का कार्य प्रशस्त किया है, उसमें मध्यप्रदेश भी अपने युवाओं को इस यज्ञ से जोड़ेगा।
आज देश प्रधानमंत्री श्री नरेंद मोदी जी के नेतृत्व में आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है, हम सभी कृत संकल्पित और गौरवान्वित हैं कि पूरे वर्ष भर देश की आजादी के लिये मर मिटने वालों की याद में कार्यक्रम आयोजित होंगे, जो देश की युवा पीढ़ी को क्रांतिवीरों के साहस, बलिदान,त्याग और समर्पण से परिचित कराएंगे। मध्यप्रदेश भी आजादी के रण बांकुरों की समाधि स्थलों पर वर्ष भर कार्यक्रम आयोजित करेगा। हम कृतज्ञ हैं प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के जिनके प्रयासों से देश के युवाओं में क्रांतिवीरों की गाथाओं के स्वर गूजेंगे।
हम भाग्यशाली हैं कि देदीप्यमान नेतृत्व हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी, प्रधानसेवक के रूप में देश को समृद्धशाली, वैभवशाली, संपन्नशाली, बनाने के लिये हर क्षण प्रयत्नशील हैं। वे एक विजनरी लीडर हैं, वे मैन ऑफ आइडियाज हैं। मोदी जी के आदर्श, सिद्धांत, राजनैतिक मूल्य और जीवन का पल-पल देश के सर्वांगीण विकास को समर्पित हैं। जिनके नेतृत्व में भारत में नया सवेरा दिखाई दे रहा है, जिनकी संकल्पना भारत को आत्मनिर्भरता की ओर ले जा रही है। सबका साथ,सबका विकास और सबके विश्वास के मंत्र को साकार कर, सबके प्रयासों से अतुल्य भारत के निर्माण को प्रतिबद्व हैं। मैं प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी के जन्मदिवस की मंगलमयी शुभकामनाओं के साथ भारत के बढ़ते वैभव को गतिमान रखने, उनके उत्तम स्वास्थ्य, दीर्घायु व शुभ संकल्पों को पूर्ण करने ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ।



और भी पढ़ें :