देश के 15वें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी...

WD|
FILE

गरीबी में जन्म, पर नियति को कुछ और ही मंजूर (17 सितम्बर, 1950) : मेहसाणा जिले के वडनगर में जन्म। हीराबेन और दामोदर दास मोदी के दूसरे नंबर के पुत्र पांच भाई बहनों में से एक थे। उनका बचपन अभावों और परेशानियों में बीता और उन्होंने घर का खर्च चलाने के ‍ल‍िए माता-पिता की मदद की। पिता चाय बनाते थे और वे इसे स्टेशन पर आने वाली रेलगाड़ियों की सवारियों को बेचते थे तो अक्सर अपनी मां के साथ दूसरे के घरों में काम भी करते थे। मोदी ने कुछ समय हिमालय में भी बिताया, जहां वे संन्यास के उद्देश्य से गए थे, लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था। आज वे देश के सबसे ताकतवर व्यक्ति बन गए हैं यानी देश के प्रधानमंत्री बन गए हैं।




और भी पढ़ें :