समुद्री अभ्यास मालाबार का दूसरा चरण अरब सागर में संपन्न

पुनः संशोधित शुक्रवार, 20 नवंबर 2020 (21:46 IST)
नई दिल्ली। भारत,अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया की नौसेनाओं के बीच मालाबार का दूसरा चरण आज में संपन्न हो गया। 4 दिन का यह अभ्यास गत मंगलवार को अरब सागर में शुरू हुआ था। मालाबार अभ्यास का पहला चरण इस महीने की तीन से छह तारीख तक बंगाल की खाड़ी में विशाखापट्टनम में हुआ था।
ऑस्ट्रेलिया की नौसेना ने इस अभ्यास में पहली बार हिस्सा लिया है जिसे काफी महत्वपूर्ण घटनाक्रम के रूप में देखा जा रहा है। वार्षिक मालाबार अभ्यास की शुरुआत सबसे पहले 1992 में भारत और अमेरिका की 9 सेनाओं ने की थी।

कोविड-19 महामारी के चलते इस बार का अभ्यास समुद्र तक ही सीमित रहा और नौसैनिकों के बीच जमीन पर होने वाला अभ्यास नहीं हुआ। इस दौरान चारों देशों के नौसैनिकों ने अपने रण कौशल का परिचय देते हुए परस्पर अनुभव साझा किए और विभिन्न अभियानों में परस्पर तालमेल करते हुए लक्ष्यों को हासिल किया।

अभ्यास के दूसरे चरण में भारत और अमेरिका की नौसेनाओं के विमानवाहक पोतों आईएनएस विक्रमादित्य और निमिट्ज ने भी हिस्सा लिया। इस दौरान भारत तथा अमेरिका के लड़ाकू विमानों मिग 29 के और एफ 18 ने विमानवाहक पोतों से विभिन्न मिशनों के लिए उड़ान भरी तथा इन पर सफलतापूर्वक लैंडिंग भी की।

अभ्यास में चारों नौसेनाओं के प्रमुख युद्धपोतों,पनडुब्बियों, लड़ाकू विमानों और हेलीकॉप्टरों ने हिस्सा लिया। भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया हिन्द प्रशांत क्षेत्र में मुक्त और खुले नौवहन के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय नियमों पर आधारित कानून व्यवस्था के पक्षधर हैं।(वार्ता)



और भी पढ़ें :