अग्निपथ योजना पर नहीं थमा बवाल, सिकंदराबाद में प्रदर्शन की वजह से 1 की मौत

Last Updated: शुक्रवार, 17 जून 2022 (14:47 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। सशस्त्र बलों में भर्ती के लिए घोषित अग्निपथ योजना के खिलाफ ट्रेनों में आगजनी, सार्वजनिक और पुलिस के वाहनों को आग लगाने की घटनाओं के बीच सरकार ने वर्ष 2022 के लिए इस प्रक्रिया के तहत भर्ती की उम्र पूर्व में घोषित 21 साल से बढ़ाकर 23 साल कर दी। सेना में नई भर्ती योजना में उम्र सीमा बढ़ाने के बाद भी देश के कई राज्यों में शुक्रवार को भी विरोध जारी रहा। मामले से जुड़ी हर जानकारी...
-'अग्निपथ' योजना के खिलाफ हरियाणा में शुक्रवार को दूसरे दिन भी विरोध प्रदर्शन जारी रहा।
-सेना में भर्ती के आकांक्षी युवाओं ने सड़कों पर पहिए जलाए। कुछ युवा नरवाना में रेल पटरियों पर बैठ गए और जींद-बठिंडा रेल मार्ग को अवरुद्ध किया।
-रोहतक में प्रदर्शनकारी युवाओं ने पहिए जलाए, जबकि बल्लभगढ़ में राष्ट्रीय राजमार्ग-19 पर वाहनों पर पथराव करने के आरोप में 40 से अधिक युवाओं को गिरफ्तार किया गया।
-पुलिस ने पलवल जिले में हिंसा को लेकर एक हज़ार से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया।
-अग्निपथ प्रदर्शन के कारण अब तक 35 ट्रेन रद्द, 200 से अधिक ट्रेन प्रभावित हुईं
-गौतमबुद्ध नगर में अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने यमुना एक्सप्रेस-वे पर जाम लगाया
-गुरुग्राम जिले में एहतियात के तौर पर धारा-144 लागू, पुलिस हाई अलर्ट पर
-आइसा का ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ प्रदर्शन, आईटीओ मेट्रो स्टेशन के सभी द्वार बंद किए गए
-तेलंगाना के सिकंदराबाद में प्रदर्शन की वजह से 1 की मौत।
-वायुसेना प्रमुख वीआर चौधरी ने कहा, 24 जून से भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी। इस साल उम्र सीमा 21 साल से बढ़ाकर 23 साल करना सही।
-‘अग्निपथ’ के तहत आयु सीमा बढ़ाकर 23 वर्ष करने के निर्णय से भर्ती रैलियों में शामिल होने की तैयारी कर रहे युवाओं को अवसर मिलेगा : थल सेना प्रमुख।
-हम अपने युवाओं से भारतीय सेना में ‘अग्निवीर’ के रूप में शामिल होने के इस अवसर का लाभ उठाने का आह्वान करते हैं: अग्निपथ पर सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे ने कहा।
-इंदौर के नेशनल हाईवे 3 मुम्बई आगरा रोड पर छात्रों ने किया प्रदर्शन। हाइवे पर लगाया जाम, पुलिस ने किया

लाठीचार्ज।
-शहर के लक्ष्मीबाई स्टेशन पर शुक्रवार सुबह 7 बजे सेना भर्ती में पहुंचे युवाओं ने हंगामा और पथराव कर दिया। पथराव में बाणगंगा थाने के एक एसआई स्वराज डाबी के कान में आई चोट।
-अग्निपथ के खिलाफ पलवल में हिंसक प्रदर्शन, बल्लभगढ़ में मोबाइल इंटरनेट व SMS सेवाएं निलंबित। मोबाइल नेटवर्क पर प्रदान की जाने वाली सभी ‘डोंगल’ सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं।
-भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‍डा ने किया योजना में उम्र सीमा बढ़ाने का स्वागत, कहा- पीएम युवाओं की चिंता से अवगत।
-55 पैसेंजर ट्रेनें रद्द, 100 से ज्‍यादा का बदला गया रूट
-तेलंगाना के सिकंदराबाद में प्लेटफॉर्म पर तोड़फोड़, उपद्रवियों ने ट्रेन में लगाई आग।
-बिहार के सुपौल में भी प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन में लगाई आग।
-सासाराम में भाजपा कार्यालय में तोड़फोड़ और आगजनी।
-विक्रमशिला, बिहार संपर्क क्रांति और जम्‍मूतवी-गुवाहाटी ट्रेन में लगाई आग
-बेगूसराय के लखमिनियां स्टेशन पर भी उग्र युवाओं का प्रदर्शन, ट्रेन में लगाई आग।
-समस्‍तीपुर में दिल्ली जाने वाली बिहार संपर्क क्रांति एक्‍सप्रेस के चार डिब्बों में आग लगा दी जबकि 10 बोगियों को रोड़ेबाजी कर क्षतिग्रस्त कर दिया।
-इसी तरह से जिले के मोहिउद्दीन नगर रेलवे स्टेशन पर जम्मू तवी गुवाहाटी एक्सप्रेस के दो डिब्बों में प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी।
-लखीसराय में सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने लखीसराय रेलवे स्‍टेशन पर जमकर तोड़फोड़ की। भीड़ ने आनंद विहार टर्मिनल (दिल्‍ली) से चलकर भागलपुर जाने वाली विक्रमशिला सुपरफास्‍ट ट्रेन में लगाई आग।
-भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना किसी भी तरह से ठीक नहीं है। इससे किसानों के बच्चे आत्महत्याएं करेंगे। उन्होंने कहा कि किसान पथ और अग्नि पथ एक है।
-अग्निपथ योजना वापस लेने की मांग करते हुए देश के कई राज्यों में प्रदर्शन।
-बिहार में लगातार तीसरे दिन अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शन।
-बिहार के बक्सर और आरा में प्रदर्शन, प्रदर्शनकारी छात्रों ने रेलवे ट्रेक पर जलाए टायर।
-कोलकाता से दिल्ली तक जाने वाले कई ट्रेनें रद्द।
-यूपी के बलिया में भी छात्रों का प्रदर्शन। छात्रों ने की तोड़फोड़। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए किया लाठीचार्ज।
-केंद्र सरकार द्वारा सशस्त्र बलों में भर्ती के लिए घोषित ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ सेना में भर्ती के आकांक्षी सैकड़ों अभ्यार्थियों ने रांची के मेन रोड स्थित सेना भर्ती कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया।



और भी पढ़ें :