JNU वाली शहला के पिता ने बेटी को बताया देशद्रोही, शहला ने कहा- मां को पीटते थे पिता

Last Updated: मंगलवार, 1 दिसंबर 2020 (12:44 IST)
जम्मू। जवाहरलाल विश्वविद्यालय (JNU) की पूर्व छात्र नेता (Shehla Rashid) के पिता ने अपनी बेटी शेहला को देशद्रोही बताते हुए के डीजीपी को पत्र लिखकर अपनी बेटी पर देशद्रोही होने के अलावा एंटीनेशनल गतिविधियों में संलिप्त रहने जैसे बहुत ही गंभीर आरोप लगाए हैं।
ALSO READ:
केरल के निकाय चुनाव में 'किंग कांग', 'कोरोना' जैसे नामों वाले उम्मीदवार खींच रहे लोगों का ध्यान
अब्दुल राशिद ने अपने लिखे गए पत्र में इस बाता का दावा किया है कि आने वाले समय में उन्हें अपनी बेटी से अपनी जान का खतरा है। साथ ही उन्होंने ये भी लिखा है कि उनकी बेटी देश विरोधी गतिविधियों में संलिप्त है। अगर समय रहते उसे गिरफ्तार नहीं किया गया तो वो मेरी जान भी ले सकती है।

शहला राशिद के पिता अब्दुल राशिद शोरा ने सोमवार को अपनी बेटी के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए। शोरा ने बेटी के एनजीओ के खिलाफ जांच शुरू करने की मांग की और आरोप लगाया कि कश्मीर घाटी में राजनीति से जुड़ने के लिए शहला ने पैसा लिया था। हालांकि शहला ने अपने पिता द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को खारिज किया है।

शहला ने अपने पिता के बयान को ‘आधारहीन और बकवास बताया’। शहला ने कहा कि घरेलू हिंसा के मामले में परिवार द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के बाद एक अदालत ने 17 नवंबर को श्रीनगर आवास में उनके पिता के प्रवेश पर रोक लगा दी थी।
संवाददाता सम्मेलन में पुलिस महानिदेशक को संबोधित 3 पन्ने का एक पत्र जारी करते हुए शोरा ने दावा किया कि उन्हें अपनी बेटी शहला, उनके सुरक्षा गार्ड, बहन और उनकी मां से जान का खतरा है।

शोरा ने दावा किया कि उसने (शहला) कश्मीर में राजनीति में शामिल होने के लिए पूर्व विधायक इंजीनियर राशिद और कारोबारी जहूर वताली से 3 करोड़ रुपए लिए थे। आतंकवाद के वित्तपोषण में कथित संलिप्तता के लिए राशिद और वताली को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने पिछले साल गिरफ्तार किया था। जेएनयू की पूर्व छात्र नेता शहला राजनीति में शामिल हो गई थीं और आइएएस टॉपर शाह फैसल द्वारा शुरू जेके पॉलिटिकल मूवमेंट की संस्थापक सदस्य बनी थीं।
शोरा ने शहला द्वारा चलाए जाने वाले गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ), और अपनी बेटियों और उनकी मां के बैंक खातों की जांच की भी मांग की।

हालांकि इसके जवाब में शहला ने एक ट्वीट कर कहा कि आप में से कई लोगों ने मेरे पिता द्वारा मुझ पर, मेरी मां और बहन पर लगाए गए आरोपों का वीडियो देखा होगा। कम शब्दों में और स्पष्ट तौर पर कहूं तो वह अपनी पत्नी को पीटने वाले, गाली-गलौज करने वाले शख्स हैं। हमने उनके खिलाफ कदम उठाने का फैसला किया और इसके जवाब में उन्होंने यह हथकंडा अपनाया।
शहला ने आरोपों को ‘बेबुनियाद और बकवास’ बताया । उन्होंने कहा कि मेरी मां ने जीवनभर काफी हिंसा, प्रताड़ना का सामना किया। वह परिवार के कारण चुप रह गईं। अब हम उनकी (पिता) इस हरकत के खिलाफ बोलने लगे तो उन्होंने भी हमें बदनाम करना शुरू कर दिया। शहला ने कहा कि किसी को भी उनके पिता द्वारा लगाए गए आरोपों को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए। (इनपुट भाषा)



और भी पढ़ें :