भारतीय सेना ने की पुष्टि, लद्दाख में चीन से हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद

Last Updated: मंगलवार, 16 जून 2020 (23:52 IST)
नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच लद्दाख के गलवान घाटी क्षेत्र में हुए हिंसक संघर्ष में 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने की खबर है। चीन की ओर से भी 43 सैनिक हताहत हुए हैं। इनमें मृतकों के साथ ही गंभीर रूप से घायल सैनिक शामिल हैं। भारत-चीन घटनाक्रम पर पल-पल की जानकारी...

सेना ने बयान में कहा कि जान गंवाने वाले 20 में से 17 सैनिक गतिरोध वाले स्थान पर, शून्य से नीचे तापमान में ड्यूटी के दौरान गंभीर रूप से घायल हो गए थे।






- भारतीय सेना ने की पुष्टि झड़प में कर्नल समेत 20 जवान शहीद
- बॉर्डर पर चाइना के हेलीकॉप्टर चीनी सैनिक के शव उठाने पहुंचे

- ANI के मुताबिक झड़प में चीनी सेना के 43 सैनिक हताहत हुए हैं। इनमें मरने वालों के साथ ही गंभीर रूप से घायल सैनिक भी शामिल हैं।
- ANI ने सरकारी सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि चीन के साथ झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक यह संख्‍या और भी बढ़ सकती है।
- पीटीआई ने सरकारी सूत्रों के हवाले से बताया कि चीन से झड़प में 10 भारतीय जवान शहीद।
- चीन से झड़प पर भारतीय सेना का बयान जल्द
- प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और रक्षा मंत्री की बैठक
- प्रधानमंत्री आवास पर उच्च स्तरीय बैठक खत्म
- भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि पूर्वी लद्दाख के सीमावर्ती क्षेत्र में कम करने के लिए भारत और चीन राजनयिक और सैन्य स्तर पर चर्चा कर रहे हैं।

- विदेश मंत्रालय ने कहा, 15 जून की देर शाम और रात को यथास्थिति में परिवर्तन करने के चीन की ओर से किए गए एकतरफा प्रयास के चलते हिंसक झड़प हुई।

- भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‍डा ने कहा कि हमारी सेना ‘किसी भी प्रतिकूल परिस्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह सक्षम’ है और हमारे पास राजनीतिक इच्छाशक्ति है।

- नड्‍डा ने डिजिटल रैली ‘केरल जन संवाद’ के दौरान भारत-चीन गतिरोध पर कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की सीमाएं यथावत बनी रहेंगी।

- विदेश मंत्री एस जयशंकर प्रधानमंत्री मोदी से मिलने पहुंचे।
- विदेश मंत्री एस जयशंकर, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, चीफ डिफेंस स्‍टॉफ जनरल बिपिन रावत और तीनों सेनाओं के प्रमुखों की बैठक खत्म।
-सेना से जुड़े सूत्रों का कहना है कि चीनी सेना को भी काफी नुकसान हुआ है।
-जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि दोनों सेनाओं की ओर से रात में पीछे हटने की प्रक्रिया जारी थी, लेकिन अचानक चीनी सैनिकों की ओर से हरकत की गई है जिसमें भारतीय सैनिक शहीद हो गए।
-चीन के पांच सैनिकों की मौत के मामले में ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्टर ने अपना ट्वीट डिलीट किया, भारत को ही ख़बर का स्रोत बताया।
-AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने ट्‍वीट कर लद्दाख में चीनी सैनिकों से झड़प में 3 सैनिकों की शहादत पर शोक जताया। सरकार जवानों की शहादत का बदला ले, हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाना चाहिए।

-सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे का पठानकोट मिलिटरी स्टेशन का दौरा रद्द किया गया।
-लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ झड़प में सेना के जवानों की मौत के बाद केंद्र सरकार पर कांग्रेस हुई हमलावर। कहा- ऐसी घटनाएं स्वीकार्य नहीं, पीएम नरेंद्र मोदी और रक्षामंत्री राजनाथसिंह चुप्पी तोड़ें।
-चीन के साथ सीमा विवाद को बाद और हालिया झड़प के बाद बोले भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने भारतीय सेना की प्रशंसा की।
-एक जानकारी के मुताबिक गलवान घाटी में चीन के टेंट और सैकड़ों सैनिक मौजूद।
-समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक बीजिंग ने इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भारतीय सैनिकों ने सीमा पार कर चीनी सैनिकों पर हमला किया था।
-ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक चीनी विदेश मंत्री ने कहा है कि मौजूदा विवाद का हल बातचीत के जरिए होगा और दोनों देश इसके लिए तैयार हैं।

-रक्षामंत्री राजनाथसिंह ने सीडीएस बिपिन रावत एवं तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ बैठक इस मसले पर बैठक की।
-बैठक के बाद राजनाथ ने पूरे मामले की जानकारी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दी।
-झड़प में भारतीय सेना के एक कर्नल, एक सूबेदार और जवान समेत तीन सैनिक शहीद हो गए हैं। आधा दर्जन के लगभग जवान जख्मी भी हुए हैं।
-जानकारी के मुताबिक यह घटना सोमवार रात उस समय हुई जब गलवान घाटी क्षेत्र से दोनों फौजें पीछे हटने की प्रक्रिया में जुटी हुई थीं।
-लद्दाख की गलवान वैली में भारत और चीन सेना के मेजर जनरलों के बीच आपसी बातचीत चल रही है। हिंसक झड़प के बाद के तनावपूर्ण स्थिति को दूर करने के लिए यह बैठक हो रही है।
At least 10 personnel killed in violent face-off in Ladakh's Galwan Valley: government sources



और भी पढ़ें :