Pegasus Scandal मामले में पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई ने कही यह बात

Last Updated: मंगलवार, 20 जुलाई 2021 (18:01 IST)
नई दिल्ली, भारत के पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई पर जिस महिला ने साल 2019 में यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था, वह भी इजरायली स्पाइवेयर के जरिए संभावित जासूसी की टारगेट लिस्ट में शामिल थीं।

इस मामले में पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई ने किसी भी तरह की टिप्पणी करने से मना कर दिया। सीजेआई के पद से रिटायर होने के बाद भाजपा की ओर से राज्यसभा के लिए मनोनित किए गए रंजन गोगोई ने कहा, 'मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा'

सरकारों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले इस स्पाइवेयर की संभावित जासूसी के लिए टारगेट लिस्ट में महिला से जुड़े 11 मोबाइल नंबर शामिल हैं। यह खुलासा द वायर, वाशिंगटन पोस्ट और अन्य मीडिया संस्थानों की ग्लोबल इंवेस्टिगेशन में हुआ है।

द वायर की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर, दो केंद्रीय मंत्री, टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी और 40 भारतीय पत्रकार जासूसी के संभावित टारगेट थे।

जस्टिस गोगोई पर 2019 में यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली सुप्रीम कोर्ट की उस कर्मचारी का नाम सोमवार को रिपोर्ट में आया था।



और भी पढ़ें :