Weather Alert: ठंड का प्रकोप बढ़ा, यूपी के कई शहरों में कोल्ड डे की स्थिति

Last Updated: गुरुवार, 28 जनवरी 2021 (09:11 IST)
नई दिल्ली। ठंड का प्रकोप दिनोदिन बढ़ता ही जा रहा है। राजस्थान, सहित हरियाणा, और के कुछ हिस्सों में भीषण का प्रकोप जारी रहा। कई जगहों पर न्यूनतम तापमान सामान्य से 2 से 7 डिग्री सेल्सियस तक नीचे दर्ज किया गया। उत्तरप्रदेश के कई शहरों में कोल्ड डे की स्थिति बनी रही है। यहां तापमान काफी नीचे चला गया है।
ALSO READ:
Weather Alert : उत्तर और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में पड़ेगी कड़ाके की ठंड
एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्वोत्तर भारत में असम और आसपास के भागों के ऊपर बना हुआ है। छत्तीसगढ़ तक व दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र से विदर्भ होते हुए एक ट्रफ बनी हुई है। देश के बाकी हिस्सों पर कोई अन्य सक्रिय मौसमी सिस्टम नहीं है।
स्काईमेट से प्राप्त समाचार के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान राजस्थान, गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ, हरियाणा, पंजाब और मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में भीषण शीतलहर का प्रकोप जारी रहा। इन भागों में कई जगहों पर न्यूनतम तापमान सामान्य से 2 से 7 डिग्री सेल्सियस तक नीचे तक चला गया है। इसके दूसरी ओर पश्चिमी और दक्षिणी उत्तरप्रदेश के शहरों में कोल्ड डे कंडीशन बनी रही, क्योंकि अधिकतम तापमान सामान्य और 16 डिग्री से नीचे रिकॉर्ड किया गया। उत्तरप्रदेश, बिहार, दक्षिण-पूर्वी और पूर्वी मध्यप्रदेश, असम, त्रिपुरा, मेघालय के अलावा उत्तरी पंजाब और हरियाणा के तराई वाले क्षेत्रों में बेहद घना कोहरा छाया रहा।
अगले 24 घंटों के दौरान के मौसम के बारे में अनुमान है कि पंजाब और हरियाणा में 28 जनवरी से कोहरे में कुछ कमी आएगी। हालांकि इन दोनों राज्यों में अगले 24 घंटों के दौरान कुछ स्थानों पर हल्के से मध्यम कोहरा छाया रहेगा। दूसरी तरफ उत्तरप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों में कई जगहों पर बेहद घने कोहरे के चलते सामान्य जनजीवन के प्रभावित होने की आशंका है। मध्यप्रदेश में भी 1-2 स्थानों पर मध्यम से घना कोहरा छाया रह सकता है।
पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात के सौराष्ट्र तथा कच्छ और मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में शीतलहर का प्रकोप जारी रहने की संभावना है। हालांकि उत्तरप्रदेश समेत उत्तर भारत के मैदानी राज्यों और गंगा के मैदानी इलाकों में अब कोल्ड डे कंडीशन से राहत मिल जाएगी, क्योंकि दिन के तापमान में हल्की वृद्धि होने के आसार हैं।



और भी पढ़ें :