हाथरस गैंगरेप की जांच करेगी CBI, केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना

पुनः संशोधित शनिवार, 10 अक्टूबर 2020 (22:07 IST)
नई दिल्ली। ने (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) में 19 वर्षीय एक दलित महिला के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और बाद में उसकी मौत के मामले की से के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।
उन्होंने बताया कि जांच एजेंसी के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है और प्राथमिकी दर्ज किए जाने के तुरंत बाद फॉरेंसिक विशेषज्ञों के साथ जांच दलों को अपराध स्थल पर भेजा जाएगा।
उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश सरकार ने कथित सामूहिक बलात्कार मामले के अलावा राजनीतिक हितों, मीडिया के एक हिस्से के द्वारा दुष्प्रचार की घटनाओं, जातिगत टकराव और हिंसा के लिए उकसाने की खातिर कथित आपराधिक साजिश से संबंधित प्राथमिकी में भी सीबीआई जांच की मांग की है।
ALSO READ:
के बाद गृह मंत्रालय ने महिला सुरक्षा को लेकर दिखाई सख्ती, जारी किया नया परामर्श
मामले की जांच सीबीआई की विशेष अपराध शाखा को सौंपी जा सकती है। सीबीआई की गाजियाबाद यूनिट इस मामले की जांच कर सकती है।
हाथरस गैंगरेप मामले (Hathras Gang Rape Case) की जांच अब तक एसआईटी करती रही है। एसआईटी ने गांव के 40 लोगों को पूछताछ के लिए नोटिस भेजा था। इनमें से काफी लोगों से पूछताछ की जा चुकी है गंभीर रूप से घायल महिला की 29 सितंबर को दिल्ली के एक अस्पताल में मृत्यु हो गई थी।

आरोप है कि ऊंची जाति के चार लोगों ने पीड़िता के साथ बलात्कार किया था। यूपी सरकार ने गत मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया था। इसमें कथित बलात्कार और हमले की सीबीआई जांच के निर्देश दिए जाने की मांग की गई थी। (इनपुट भाषा)



और भी पढ़ें :