मंगलवार, 16 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. चुनाव 2024
  2. लोकसभा चुनाव 2024
  3. लोकसभा चुनाव समाचार
  4. Mayawati's appeal to elect Bahujan friendly government
Last Updated : गुरुवार, 18 अप्रैल 2024 (12:16 IST)

मायावती ने की अपील, देश में गरीबों, मेहनतकशों, वंचितों की बहुजन हितैषी सरकार चुनें

बोलीं, वोट का अधिकार लोकतांत्रिक शक्ति है

मायावती ने की अपील, देश में गरीबों, मेहनतकशों, वंचितों की बहुजन हितैषी सरकार चुनें - Mayawati's appeal to elect Bahujan friendly government
Lok Sabha Election 2024 : बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती (Mayawati) ने लखनऊ में अपील की है कि 'पहले मतदान, फिर जलपान' के संकल्प के साथ मतदाता (voters) अपने वोट के बहुमूल्य संवैधानिक अधिकार का निर्भय होकर इस्तेमाल करें एवं देश में गरीबों, मेहनतकशों, वंचितों की बहुजन-हितैषी सरकार चुनें।

 
पोस्ट में लिखा, बहुजन हितैषी सरकार चुनें : सोशल मीडिया मंच 'एक्स' पर मायावती ने एक पोस्ट में लिखा कि देश में 18वीं लोकसभा हेतु 7 चरणों में हो रहे आम चुनाव के लिए कल शुक्रवार को मतदान के पहले चरण से ही 'पहले मतदान, फिर जलपान' के संकल्प के साथ अपने वोट के बहुमूल्य संवैधानिक अधिकार का निर्भय होकर इस्तेमाल करें एवं देश में गरीबों, मेहनतकशों, वंचितों की बहुजन हितैषी सरकार चुनें।

 
वोट का अधिकार लोकतांत्रिक शक्ति है : उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डॉ. भीमराव आम्बेडकर के अनुपम संविधान के तहत बिना किसी भेदभाव के मिला एक वोट का अधिकार ऐसी लोकतांत्रिक शक्ति है जिसके जरिए सत्ता की मास्टर चाबी प्राप्त करके गरीब, कमजोर व उपेक्षित लोग अपना उद्धार खुद करने में सक्षम बनकर अपना जीवन स्तर सुधार सकते हैं।
 
मायावती ने लिखा कि इसीलिए वोट के अधिकार की रक्षा पूरे जी-जान से करनी है। सावधान रहें आपका कोई वोट खरीदा न जा सके। लूटा न जा सके। कोई वोट पड़ने से न रह जाए तथा धनबल, मंदिर-मस्जिद आदि के नाम पर आपके वोट का गलत इस्तेमाल न हो। वोट जरूर डालें। यही सबसे बड़ा कर्तव्य व बाबा साहेब को श्रद्धांजलि।
 
आचार संहिता का उल्लंघन रोकना जरूरी : बसपा नेता ने आगे कहा कि निर्वाचन आयोग ने यह लोकसभा चुनाव 'स्वतंत्र, निष्पक्ष, सहभागी, सुगम, समावेशी, पारदर्शी व शान्तिपूर्ण तरीके से कराने के लिए तैयारियों' का आश्वासन देश को दिया है जिस पर खरा उतरने के लिए ख़ासकर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग व सत्ताधारी पार्टी द्वारा आचार संहिता का उल्लंघन रोकना जरूरी है। लोकसभा चुनाव के तहत उप्र में पहले चरण में कल 19 अप्रैल को आठ लोकसभा सीटों पर मतदान होगा(भाषा)
 
Edited by : Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
Lok Sabha Election : कर्नाटक के आदिवासियों को आधे अधूरे प्रलोभनों से फुसला रहे नेता