11 साल बाद इस देश के साथ द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज खेलेगी वेस्टइंडीज

Last Updated: शुक्रवार, 14 मई 2021 (21:53 IST)
पोर्ट ऑफ स्पेन:जून से अगस्त 2021 तक लगातार दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और की मेजबानी करेगा। क्रिकेट वेस्टइंडीज ने शुक्रवार को यह घोषणा की।
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट और टी-20 सीरीज से वेस्ट इंडीज के अंतर्राष्ट्रीय गर्मियों की शुरुआत होगी। दक्षिण अफ्रीका की टीम एक जून को सेंट लूसिया पहुंचेगी जहां वह दो टेस्ट खेलेगी। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका की टीम ग्रेनाडा में 26 जून से तीन जुलाई तक पांच टी-20 खेलेगी। वर्ष 2010 के बाद यह पहला मौका होगा जब दक्षिण अफ्रीका की टीम वेस्ट इंडीज में द्विपक्षीय क्रिकेट खेलेगी।

ऑस्ट्रेलिया का सफ़ेद बाल का दौरा सेंट लूसिया में पांच टी-20 से होगा जो नौ जुलाई से 16 जुलाई तक खेले जाएंगे। इसके बाद तीन वनडे बारबाडोस में 20 से 24 जुलाई तक खेले जायेंगे।
इस बीच पाकिस्तान की टीम 21 जुलाई को बारबडोस पांच मैचों की टी-20 सीरीज खेलने पहुंचेगी। सीरीज के पहले दो मैच बारबाडोस में खेले जाएंगे जबकि शेष तीन मैच 31 जुलाई से तीन अगस्त तक गयाना में खेले जाएंगे। इसके बाद दोनों टीमें जमैका में दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेंगी। टेस्ट सीरीज केरेबियन प्रीमियर लीग शुरू होने से चार दिन पहले समाप्त होगी।

क्रिकेट वेस्ट इंडीज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जॉनी ग्रेव ने कहा, “ इस साल की शुरुआत में श्रीलंका के खिलाफ सभी प्रारूपों की श्रृंखला की सफल मेजबानी के बाद हमें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि हम वेस्ट इंडीज में दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान की मेजबानी करने के लिए तैयार हैं। पांच शहरों में एक के बाद एक तीन अंतरराष्ट्रीय टीमों की मेजबानी करना अभूतपूर्व है और कोरोना महामारी के बीच इन श्रृंखलाओं को एक साथ रखना बड़ी चुनौती होगी। ”

की गत विजेता वेस्टइंडीज ने तीनों ही देशों के खिलाफ होने वाली सीरीज में टी-20 मैचों को प्राथमिकता दी है। अक्टूबर नवंबर में भारत आईसीसी टी-20 विश्कप की मेजबानी करने वाला है और वेस्टइंडीज की टीम इस टूर्नामेंट से पहले सबसे छोटे फॉर्मेट का पूरी तरह अभ्यास करना चाहती है।
दिलचस्प बात यह है कि 2016 में खेले गए पिछले टी-20 विश्वकप की मेजबानी भी भारत में ही हुई थी जिसके फाइनल मैच में वेस्टइंडीज ने हैरतअंगेज जीत दर्ज की थी। कोलकाता के इडन गार्डन में खेले गए इस मैच के अंतिम ओवर में कार्लोस ब्रैथवेट ने इंग्लैंड के बेन स्टोक्स की पहली 4 गेंदो पर 4 छक्के लगाकर वेस्टइंडीज को दूसरा टी-20 खिताब जिताया था।

इससे पहले साल 2012 में वेस्टइंडीज मेजबान श्रीलंका को हराकर अपना पहला टी-20 विश्वकप जीती थी।

दिलचस्प बात यह है कि सर्वाधिक 2 बार टी-20 विश्वकप अपने नाम करने वाली टीम वेस्टइंडीज टी-20 रैंकिंग में सबसे आखिरी पायदान पर काबिज है। नंबर 10 की रैंक पर खड़ी वेस्टइंडीज, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से भी नीचे है लेकिन आगामी टी-20 विश्वकप से पहले इन तीन सीरीज में उसे अपनी रैंकिंग सुधारने का अच्छा मौका मिलेगा।



और भी पढ़ें :