आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल की रेस हो रही रोमांचक, जानिए समीकरण

Last Updated: बुधवार, 27 जनवरी 2021 (17:37 IST)

चैंपियनशिप में पहुंचने के लिए सभी टीमों में कांटे की टक्कर है। मुकाबला इतना कड़ा है कि पहली चार टीमों में सिर्फ 3 परसेंटेज प्वाइंट का अंतर है।विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल की यह रेस आगे और भी रोमांचक होने वाली है।

आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की अगर तालिका देखें तो 71.7% के साथ शीर्ष पर काबिज है। दूसरे स्थान पर 70 प्रतिशत के साथ और इसके बाद ऑस्ट्रेलिया 69.2% के साथ तीसरे स्थान पर और 68.7% के साथ चौथे स्थान पर काबिज है जो अभी अभी श्रीलंका से 2-0 से टेस्ट सीरीज जीत चुकी है।
पहली चार टीमें किस स्थिती में पहुंचेगी आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में-

1) भारत को चाहिए 2-0 से जीत

ब्रिस्बेन टेस्ट में जीत से भारत के लिए फाइनल की राह आसान हो गई है। हालांकि अब भी भारत को इंग्लैंड से कम से कम 2-0 की सीरीज जीत चाहिए। यानि की 2 जीत और दो ड्रॉ पर भी भारत फाइनल में पहुंच जाएगा और इससे बेहतर नतीजों में तो पहुंच ही जाएगा। लेकिन अगर 0-3 या 0-4 से भारत हारा तो उसकी उम्मीदें खत्म हो जाएंगी।

2) न्यूजीलैंड दूसरों के मैचों पर निर्भर

न्यूजीलैंड और बांग्लादेश के बीच टेस्ट सीरीज अभी अधर में लटकी हुई है। कीवी नहीं चाहेंगे कि तीसरी टीम भी 70 प्रतिशत अंक लाकर उनकी उम्मीदें खत्म कर दें।

मसलन अगर इंग्लैंड अपने सभी मैच जीत जाती है और दक्षिण अफ्रीका ऑस्ट्रेलिया को 3-0 या 2-0 से हरा देती है तो फिर आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपिनशिप में न्यूजीलैंड के सभी रास्ते बंद हो जाएंगे।
3) ऑस्ट्रेलिया को चाहिए 2-0 की जीत

ब्रिस्बेन टेस्ट में मिली हार से ऑस्ट्रेलिया के लिए आगे का रास्ता मुश्किल हो गया है। दक्षिण अफ्रीका से खेले जाने वाली 3 टेस्ट मैचों की श्रृंखला में उसे कम से कम 2-0 की जीत चाहिए। वहीं दक्षिण अफ्रीका अगर सीरीज जीत जाती है तो ऑस्ट्रेलिया का फाइनल का टिकट कट जाएगा।

4) इंग्लैंड को चाहिए 3-0 की जीत

इंग्लैंड भले ही पिछले 5 टेस्ट से विदेशी जमीन पर अविजित है लेकिन भारत को कम से कम 3-0 से हराए बिना उसे आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह नहीं मिलने वाली। यह इंग्लैंड के लिए पहाड़ चढ़ने जैसा मुश्किल लक्ष्य होने वाला है। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :