साउथम्प्टन में खेला जाएगा WTC फाइनल, जाने क्यों खास माना जाता है यह मैदान (तस्वीरें)

Southampton
Last Updated: सोमवार, 7 जून 2021 (22:05 IST)
जैसे-जैसे समय बीत रहा है वैसे-वैसे आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल नजदीक आ रहा है। दुनियाभर के फैंस और क्रिकेट एक्सपर्ट्स टकटकी लगाए हुए इस महामुकाबले का इंतजार कर रहे हैं। टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 18 से 22 जून के बीच के एजेस बाउल मैदान पर और के बीच खेला जाएगा।
दुनिया का सबसे खुबसूरत मैदान माना जाता है साउथम्प्टन

साउथम्प्टन की गिनती न सिर्फ के बल्कि दुनिया के सबसे खूबसूरत क्रिकेट स्टेडियम में भी होती है। एजेस बाउल मैदान की सबसे खास बात यह है कि इसमें मैदान के अंदर ही एक आलीशान होटल (होटल हिल्टन) बना है और जानकारी के लिए बता दें कि इंग्लैंड पहुंचने के बाद भारतीय महिला और पुरुष टीम इसी होटल में रुकी हुई है।
स्टेडियम के अंदर ही होटल होने से खिलाड़ियों को बायो बबल से बहुत हद तक छुटकारा भी मिला है और वह बड़ी ही आसानी के साथ मैदान पर जाकर प्रैक्टिस भी कर सकते हैं। साउथम्प्टन पहुंचने के बाद टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा और रवींद्र जडेजा ने तो अकेले अभ्यास भी शुरु कर दिया है।

होटल में बने हुए 171 कमरे

साउथम्प्टन स्टेडियम के अंदर बने होटल ‘हिल्टन द एजेम बाउल’ के अंदर कुल 171 कमरे हैं और साथ ही होटल की खूबसूरती देखते ही बनती है। हिल्टन होटल के बाहर एक गोल्ड कोर्स भी है। कमरे की हर एक बालकनी से स्टेडियम का शानदार नजर आता है।

इसकी तस्वीरें टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की थीं।






गांगुली भी कर चुके हैं तारीफ
जानकरी के लिए बता दें कि पहले टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेला जाने वाला था, लेकिन बाद में कोविड-19 मामलों को ध्यान में रखते हुए आईसीसी ने इसका वेन्यू लॉर्ड्स से बदलकर साउथम्प्टन कर दिया और यह जानकरी सामने आने के बाद बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भी काफी ख़ुशी जाहिर की थी।

दादा ने अपने एक बयान में कहा था कि साउथम्प्टन में खिलाड़ियों को ज्यादा समय तक बाबो बबल में कैद नहीं रहना पड़ेगा और यह टीम के लिए एक अच्छी खबर भी है।
कोरोना के बीच हुए काफी मुकाबले

यह बात सभी अच्छे से जानते है कि पिछले साल कोरोनावायरस के चलते न सिर्फ क्रिकेट बल्कि हर एक खेल पर काफी बुरा असर पड़ा था लेकिन कोरोना काल में एक लम्बे समय के बाद क्रिकेट की वापसी भी इसी मैदान से देखने से को मिली थी।

पिछले साल इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच टेस्ट सीरीज का आगाज साउथम्प्टन के एजेस बाउल मैदान से हुआ था। इस सीरीज के साथ-साथ इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच दो टेस्ट मैच इसी मैदान पर खेले गए थे। कोविड-19 के बीच इस मैदान पर तीन टेस्ट, तीन एकदिवसीय और इतने ही टी-20 मैचों का सफल आयोजन देखने को मिल चुका है।



और भी पढ़ें :