भारत के खिलाफ मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने घोषित की अब तक की सबसे कमजोर टीम

Last Updated: मंगलवार, 21 दिसंबर 2021 (18:19 IST)
जोहान्सबर्ग: भारत के खिलाफ इस महीने के अंत में शुरू होने वाले तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए स्टार खिलाड़ियों कैगिसो रबादा, और एनरिक नॉर्त्जे की दक्षिण अफ्रीका टेस्ट टीम में वापसी हुई है।
नीदरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में आराम दिए जाने के बाद रबादा, डी कॉक और नॉर्त्जे को अब सभी महत्वपूर्ण श्रृंखलाओं में टीम बुलाया गया है, क्योंकि दक्षिण अफ्रीका का लक्ष्य आईसीसी के 2021-23 चक्र की सकारात्मक शुरुआत करना है।

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने मंगलवार को 21 सदस्यीय टीम की घोषणा की, जिसमें तेज गेंदबाज डुआने ओलिवियर को शामिल किया गया है जो आखिरी बार 2019 में दक्षिण अफ्रीका के लिए टेस्ट मैच खेले थे। वहीं तेज गेंदबाज ग्लेनटन स्टुरमैन, ऑलराउंडर प्रेनेलन सुब्रायन और विकेटकीपर बल्लेबाज रयान रिकेल्टन को पहली बार राष्ट्रीय टीम में चुना गया है, जबकि एक वनडे और चार टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके सिसांदा मगला काे पहली बार टेस्ट टीम में शामिल किया गया है।

2017 में अंतरराष्ट्रीय पदार्पण के बाद से दस टेस्ट मैच खेल चुके ओलिवियर कोलपैक खिलाड़ी के रूप में कार्यकाल खत्म करने के बाद इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका लौटे और इस सीजन शानदार फॉर्म में रहे।टेस्ट के शानदार खिलाड़ी डीन एल्गर टीम को टीम की कप्तानी सौंपी गई है, जबकि तेम्बा बावुमा उप कप्तान की जिम्मेदारी संभालेंगे।

दक्षिण अफ्रीकाई टीम के चयनकर्ताओं के संयोजक विक्टर म्पित्सांग ने एक बयान में कहा, “ हम चयनकर्ता होने के नाते टेस्ट क्रिकेट की वापसी के लिए उत्साहित हैं। क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के लिए यह प्रारूप बहुत महत्वपूर्ण है और इसे प्रासंगिक और जीवंत रखना संगठन की प्राथमिकताओं में से एक है। हम डीन एल्गर और उनके साथियों की वापसी का इंतजार कर रहे हैं। पिछले कुछ महीनों पहले वेस्ट इंडीज में हमने दक्षिण अफ्रीका टीम का दबदबा देखा था। हमने जिस टीम को चुना है हमें उस पर पूरा भरोसा है और पिछले कुछ सत्रों में हमने जो प्रतिभा खोजी है, हम उसका समर्थन करने में पूरी तरह से विश्वास करते हैं और खिलाड़ियों को वह सपोर्ट देते हैं जिसके वे हकदार हैं, खासकर तब जब उन्होंने लगातार महत्वपूर्ण समय में अच्छा प्रदर्शन किया है। ”

म्पित्सांग ने कहा, “ यह टेस्ट सीरीज टेस्ट चैंपियनशिप तालिका में कुछ अंक हासिल करने के लिहाज से भी महत्वपूर्ण है और हमें विश्वास है कि यह ग्रुप वहीं से आगे बढ़ेगा जहां से हमने छोड़ा था। टीम घरेलू मैदानों पर अच्छा प्रदर्शन करेगी। ”

क्रिकेट विशेषज्ञों के मुताबिक यह दक्षिण अफ्रीका की भारत के खिलाफ सबसे कमजोर टीम मानी जा रही है। इस टीम में विश्वसनीयता और लय की कमी दिख रही है। यही कारण है कि यह दक्षिण अफ्रीका दौरा भारत का सबसे बेहतर मौका माना जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच पहला टेस्ट सेंचुरियन में 26 से 30 दिसंबर तक खेला जाएगा, जबकि अगले दो मैच तीन से सात जनवरी और 11 से 15 जनवरी के बीच क्रमश: जोहान्सबर्ग और केप टाउन में खेले जाएंगे। टेस्ट सीरीज की समाप्ति के बाद पार्ल में 19 जनवरी से वनडे सीरीज शुरू होगी। 21 जनवरी को दूसरा मैच भी यहीं पर खेला जाएगा, जबकि तीसरी और अंतिम मैच 23 जनवरी को केप टाउन में होगा।
दक्षिण अफ्रीका की 21 सदस्यीय टीम :डीन एल्गर (कप्तान), तेम्बा बावुमा (उप कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), कैगिसो रबादा, सरेल इरवी, बेउरन हेंड्रिक्स, जॉर्ज लिंडे, केशव महाराज, लुंगी एनगिदी, एडेन मार्करम, वियान मल्डर, एनरिक नॉर्त्जे, कीगन पीटरसन, रैसी वैन डर डुसेन, काइल वेरेन, मार्को जेन्सन, ग्लेनटन स्टरमैन, प्रेनेलन सुब्रेयन, सिसांदा मगला, रयान रिकेल्टन, डुआने ओलिवियर।



और भी पढ़ें :