कोहली की खिचाई पर भड़के अख्तर कहा, "70 शतक खाला के आंगन में नहीं बनाए"

पुनः संशोधित रविवार, 17 जुलाई 2022 (12:52 IST)
हमें फॉलो करें
लाहौर: के तेज गेंदबाज ने विराट कोहली के आलोचकों पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत के पूर्व कप्तान ने 70 अंतरराष्ट्रीय शतक ‘‘ खाला के आंगन में’ या ‘कैंडी क्रश वीडियो गेम’ खेलते हुए नहीं बनाये हैं।

कोहली पिछले तीन साल से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शतक नहीं लगा सके है और लंबे समय से खराब लय में चल रहे है। उन्हें अब भारतीय टीम से बाहर करने की मांग की जा रही है जिसमें विश्व कप विजेता कप्तान पूर्व दिग्गज कपिल देव का भी नाम शामिल है।

अख्तर ने कहा कि वह कपिल की राय का सम्मान करते हैं कि लेकिन खराब फॉर्म में चल रहे कोहली की तुलना जूनियर क्रिकेटरों के साथ नहीं की जा सकती। उन्होंने जोर देकर कहा कि एकदिवसीय में 43 और टेस्ट में 27 शतक बनाने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है।

अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘‘ कपिल देव मेरे सीनियर हैं और उनकी एक सोच है। और अपना विचार व्यक्त करना ठीक है। मैं उनके विचारों का सम्मान करता हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ एक पाकिस्तानी के रूप में, मैं कोहली का समर्थन क्यों कर रहा हूं? यह समर्थन इसलिए है कि उसके नाम के आगे 70 अंतरराष्ट्रीय शतक हैं। वो 70 शतक खाला के आंगन या कैंडी क्रश खेलते हुए नहीं बने हैं। ’’
अख्तर ने कहा कि यह सुनकर भी दुख होता है कि कोहली को टीम से बाहर करने की बात चल रही है।उन्होंने कहा, ‘‘ कोहली को टीम से बाहर करने की बातों को सुनकर मुझे हंसी आती है। वह पिछले 10 वर्षों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज रहे है।’’

अख्तर ने कोहली को सुझाव दिया कि वह कप्तानी की बातों को भुल कर खुले दिमाग से क्रिकेट खेले।उन्होंने कहा, ‘‘ कोहली को यह भूल जाना चाहिये कि वह कभी भारत के कप्तान थे। उन्हें सिर्फ अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान देना चाहिये। ’’

तुमने क्रिकेट में जो हासिल किया है, लोग उसके सपने ही देख सकते हैं : पीटरसन ने कोहली का बचाव किया

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने खराब फॉर्म से जुझ रहे विराट कोहली का बचाव करते हुए कहा कि उसे गर्व होना चाहिये कि उसने क्रिकेट में जो हासिल किया है, लोग उसके सपने ही देख सकते हैं।

पीटरसन ने ट्वीट किया ,‘‘ तुमने क्रिकेट में जो किया है, लोग उसके सपने ही देख सकते हैं और वे सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से हैं।’’

उन्होंने इंस्टाग्राम में लिखा ,‘‘ दोस्त तुम्हारा कैरियर ऐसा रहा है कि सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को भी लगता होगा कि काश वे यह कर पाते। गर्व महसूस करो और जिंदगी का मजा लो। तुम जल्दी लौटोगे।’’(भाषा)



और भी पढ़ें :