ऋषभ पंत के बल्‍लेबाजी क्रम का पोंटिंग ने किया समर्थन, गांगुली ने बताया अनमोल धरोहर

पुनः संशोधित मंगलवार, 19 मार्च 2019 (16:51 IST)
नई दिल्ली। विश्व क्रिकेट के महानतम कप्तानों में शुमार ने को भारत की टीम में चौथे नंबर के बल्लेबाज के रूप में शामिल करने की हिमायत की जबकि सौरव गांगुली ने उन्‍हें भारतीय टीम के लिए अनमोल धरोहर बताया।
इंग्लैंड में 30 मई से शुरू हो रहे विश्व कप के लिए भारतीय बल्लेबाजी क्रम में चौथे नंबर को लेकर काफी अटकलें लगाई जा रही हैं। भारत के पास रोहित शर्मा, शिखर धवन और कप्तान विराट कोहली के रूप में शीर्ष तीन पर दुनिया के सबसे खतरनाक बल्लेबाज हैं लेकिन चौथा नंबर लगातार सिरदर्द बना हुआ है।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और में टीम के मुख्य कोच पोंटिंग ने इस बारे में पूछने पर कहा, मैं चयनकर्ता होता तो उन्‍हें विश्व कप टीम में रखता। चौथे नंबर के लिए उनसे बेहतर खिलाड़ी कोई नहीं है। वे टीम में एक्स फैक्टर बन सकते हैं।
वहीं भारत को 2003 विश्व कप के फाइनल तक ले जाने वाले पूर्व कप्तान गांगुली ने इस बात से असहमति जताई कि ऋषभ टेस्ट क्रिकेट के अपने प्रदर्शन को सीमित ओवरों में दोहरा नहीं सके हैं।

उन्होंने कहा, सीमित ओवरों में भारत के पास महेंद्र सिंह धोनी जैसा महान खिलाड़ी है और यही वजह है कि पंत को नियमित तौर पर मौके नहीं मिलते। टेस्ट में वे नियमित खेल रहे हैं और उनका फार्म देखिए। अगले दस साल में वे भारतीय टीम के लिए अनमोल धरोहर साबित होंगे।

गांगुली ने कहा, मैं उन्‍हें करीब से देख रहा हूं। वे काफी अनुशासित हैं और नेट अभ्यास के दौरान भी काफी मेहनत करते हैं। यह अच्छे खिलाड़ी के लक्षण हैं।

चौथे नंबर के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि विराट को इस बारे में राय देने की जरूरत नहीं है। उन्‍होंने अपने दिमाग में तय कर रखा होगा कि उनका चौथे नंबर का बल्लेबाज कौन है। ऋषभ है, अंबाती रायुडू है और चेतेश्वर पुजारा भी विकल्प हो सकता है।

आईपीएल में पोंटिंग का नाता मुंबई इंडियंस के साथ रहा तो गांगुली कोलकाता नाइटराइडर्स और पुणे वॉरियर्स से जुड़े रहे। दोनों के लिए दिल्ली कैपिटल्स के साथ पहला अनुभव है लेकिन दोनों अब तक कुछ खास नहीं कर सकी इस टीम से इस सत्र में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है।
पोंटिंग ने कहा, हमारी टीम में कई हरफनमौला हैं और युवा तथा अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा मिश्रण है। ईशांत शर्मा ने अपनी गेंदबाजी को नए सिरे से तराशा है जबकि शिखर धवन की दिल्ली टीम में वापसी हुई है। मुझे लगता है कि यह सत्र अच्छा होगा।

दिल्ली टीम ने वेस्टइंडीज के युवा हरफनमौला शेरफेन रदरफोर्ड को भी चुना है और दोनों दिग्गजों का मानना है कि वे इस आईपीएल की खोज साबित हो सकते हैं।

गांगुली ने कहा, मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपर किंग्स, आरसीबी सभी मजबूत टीमें हैं लेकिन यह सत्र दिल्ली कैपिटल्स के नाम होगा। हमारी टीम हर क्षेत्र में संतुलित है और टीम के पास कई उम्दा खिलाड़ी हैं जिनमें से रदरफोर्ड पर सभी की नजरें होंगी। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :