दानिश कनेरिया से भेदभाव वाले बयान पर पलटे शोएब अख्तर, बोले- बयान को गलत तरीके से पेश किया गया

Last Updated: रविवार, 29 दिसंबर 2019 (16:52 IST)
नई दिल्ली। पूर्व पाकिस्तानी गेंदबाज दानिश कनेरिया से वाले बयान पर पलट गए। शोएब ने यू-टर्न लेते हुए कहा कि उनकी बात को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया।
हाल ही में शोएब ने खुलासा किया था कि में दानिश कनेरिया के साथ हिन्दू होने के कारण भेदभाव किया जाता है। साथी खिलाड़ी उनके साथ खाना नहीं खाते हैं।
ALSO READ:
का खुलासा, पाकिस्तान में हिंदू होने का खामियाजा भुगता दानिश कनेरिया ने
शोएब के इस बयान से क्रिकेट के दुनिया में हड़कंप मच गया था। अब शोएब ने अपने ताजा यूट्‍यूब वीडियो में कहा कि मैं देखना चाहता था कि लोग इस बात पर क्या सोचते हैं। माशा अल्लाह आपने मेरे उस बयान पर अच्छी प्रतिक्रिया दी और ठीक-ठाक गलत खबर फैलाई।
शोएब ने कहा कि 'मैंने दानिश कनेरिया मामले में जो कुछ कहा उसे 'टीम कल्चर' के तौर पर नहीं कहा। यह करने वाले हमारी टीम नहीं, बल्कि एक-दो खिलाड़ी हैं, जिन्होंने ऐसा किया।
ऐसे एक-दो खिलाड़ी पूरी दुनिया में होते हैं, जो नस्लीय टिप्पणी कर देते हैं। शोएब अख्तर ने अपने वीडियो यहां तक कह दिया कि पाकिस्तान हिंदुओं का घर है और वहां उनका सम्मान भी होता है।
ALSO READ:
Shoaib Akhtar का खुलासा, पाकिस्तान में हिंदू होने का खामियाजा भुगता दानिश कनेरिया ने


अख्तर ने कहा कि एक देश के रूप में हम इस तरह के भेदभाव के विचारों को हावी नहीं होने दे सकते। हमने इसे वहीं रोक दिया। समाज के रूप में पिछले 10 से 15 साल में हमारे अंदर काफी सुधार आया है।

उन्होंने साथ ही कहा कि पाकिस्तान ने कभी कनेरिया को टीम से बाहर नहीं किया। अख्तर ने कहा कि पाकिस्तान ने कभी दानिश कनेरिया को बाहर नहीं कया।
उसे ईसीबी (इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड) के कारण बाहर किया गया। उसके साथ मैच फिक्सिंग का मुद्दा जुड़ा था और ईसीबी ने इसके लिए उसे सजा दी। पाकिस्तान ने उसके साथ कभी कुछ गलत नहीं किया।
शोएब के खुलासे के बाद खुद दानिश कनेरिया ने कहा था कि उनके साथ पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने भेदभाव किया है। कनेरिया ने एक वीडियो में कहा था कि वे पिछले 10 साल से बेरोजगार हैं उनके पास कमाई का कोई साधन नहीं हैं। किसी ने उनकी सहायता नहीं की है।




और भी पढ़ें :