Shoaib Akhtar का खुलासा, पाकिस्तान में हिंदू होने का खामियाजा भुगता दानिश कनेरिया ने

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: शुक्रवार, 27 दिसंबर 2019 (01:33 IST)
'रावलपिंडी एक्सप्रेस' के नाम से मशहूर अपने वक्त के खतरनाक तेज गेंदबाज (Shoaib Akhtar) ने पाकिस्तान में हिंदुओं के साथ हो रहे भेदभाव की पोल खोलते हुए खुलासा कि पूर्व क्रिकेटर स्पिनर दानिश कनेरिया (Danish Kaneria) के साथ भी अन्याय हुआ।

उन्होंने कहा कि दानिश कनेरिया ने में हिंदू होने का दंश सहा। शोएब ने कनेरिया के बारे में खुलासा करते हुए पाकिस्तान में हिंदुओं की दुर्दशा को दोहराया है, जो पाकिस्तानी क्रिकेट टीम में अनिल दलपत के बाद दूसरे थे। दलपत दानिश कनेरिया के मामा थे।

शोएब अख्तर ने एक 'चैट शो' के दौरान यह भी याद दिलाया कि कैसे इस सामाजिक पूर्वाग्रह ने पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेट स्टार यूसुफ योहाना को ईसाई धर्म से इस्लाम में परिवर्तित होने और मोहम्मद यूसुफ का नाम अपनाने के लिए मजबूर किया था। इस चैट शो में शोएब ने जो कुछ कहा, वह पाकिस्तानी क्रिकेट की पोल खोलने के लिए काफी है।

शोएब ने कहा कि मेरे क्रिकेट करियर में 2-3 बंदों से मेरा जो झगड़ा हुआ, वह इसी बात पर हुआ। वो लोग कराची, पंजाब और पेशावर से आने वाले हिंदू क्रिकेटरों को हिकारत की नजर से देखते थे और मुझे गर्मी आ जाती थी। मेरा मानना था कि यदि वो हिंदू है तो खेलेगा...उसी हिंदू ने पाकिस्तान को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज जिताई थी।

शोएब ने कहा कि वे लोग मुझसे कहते थे कि सर ये यहां से खाना क्यों खा रहा है? मुझे गुस्सा आ जाता था। मैं कहता कि कप्तान हो तो अपने घर में हो, मैं उठाकर बाहर फेंक दूंगा। जिस दानिश कनेरिया के बारे में बात करते हैं, उसी ने पाकिस्तान के लिए 6-6 विकेट लिए थे।
पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने यह भी कहा कि इंग्लैंड में मेरा नाम चल गया, लेकिन सच तो यह है कि दानिश और सामी नहीं होते तो पाकिस्तान नहीं जीतता। मैंने तो निचले स्तर के बल्लेबाजों का शिकार किया था।

शोएब के अनुसार, बड़े बल्लेबाजों को तो दानिश और सामी ने ही आउट किया था। यदि इस सीरीज में ये दोनों
नहीं होते तो मेरा भी नाम नहीं होता। मैंने तो सिर्फ 4 विकेट ही लिए थे, असली हीरो तो ये दोनों थे।

दानिश भी अब करेंगे खुलासे : शोएब अख्तर द्वारा दानिश कनेरिया के साथ होने वाले भेदभाव का खुलासा करने के बाद अब खुद दानिश में भी हिम्मत आ गई है। उन्होंने शोएब की कही सभी बातों को सच बताते हुए कहा कि पहले मैं डरता था लेकिन अब मैं खुलकर अपने साथ हुए अन्यास को बताऊंगा कि किस तरह ड्रेसिंग रूम में मुझे अछूत समझा जाता था।
अब्दुल कादिर से भी बेहतर थे कनेरिया : राइट आर्म लेगब्रेक गेंदबाज दानिश कनेरिया ने टेस्ट क्रिकेट में 261 विकेट झटके जो अब्दुल कादिर से 25 विकेट ज्यादा हैं। वसीम अकरम, वकार यूनिस और इमरान खान के बाद वे पाकिस्तान की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले चौथे टेस्ट गेंदबाज हैं।

दानिश कनेरिया ने 61 टेस्ट मैच खेले जबकि 19 वनडे मैच। उन्होंने पहला टेस्ट 29 नवम्बर 2000 को इंग्लैंड के खिलाफ खेला और आखिरी टेस्ट भी इसी देश के खिलाफ 29 जुलाई 2010 में खेला।


और भी पढ़ें :