दबाव से निपटने के लिए अपना तरीका पंत को खुद खोजना होगा : गांगुली

पुनः संशोधित शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019 (17:34 IST)
कोलकाता। अध्यक्ष सौरव गांगुली का मानना है कि युवा विकेटकीपर बल्लेबाज को महेंद्र सिंह धोनी से तुलना की आदत डालकर भारत के लिए खेलने के दबाव से निपटने का अपना तरीका खुद तलाशना होगा।

सीमित ओवरों के प्रारूप में पिछले कुछ अर्से से लगातार खराब प्रदर्शन के कारण 22 वर्ष के पंत आलोचना के घेरे में है। कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान रोहित शर्मा ने हालांकि उनका बचाव किया है।

कोहली ने गुरुवार को कहा कि पंत को इस कदर अलग थलग नहीं करना चाहिए कि वह मैदान पर उतरते ही नर्वस होने लगे। उन्होंने हाल ही में घरेलू श्रृंखला में पंत के मैदान पर गलतियां करने पर धोनी के नाम के नारे लगाने के प्रशंसकों के कदम को अपमानजनक बताया।

गांगुली ने कहा, ‘पंत के लिए यह अच्छा है। उसे इसकी आदत डाल लेनी चाहिए। उसे यह सुनने दीजिए और इससे निपटने का तरीका तलाशने दीजिए। उसे खुद इस दबाव से निकलने का रास्ता बनाना होगा।’

उन्होंने धोनी के भविष्य को लेकर बीसीसीआई की योजना का खुलासा करने से इनकार किया। उन्होंने कहा कि पंत को अगला धोनी बनने के लिए अगले 15 साल लगातार अच्छा खेलना होगा।

उन्होंने कहा, ‘धोनी जैसे खिलाड़ी रोज पैदा नहीं होते। पंत को वह हासिल करने में 15 साल लगेंगे जो धोनी ने हासिल किया है।’ गांगुली ने कहा, ‘धोनी ने भारतीय क्रिकेट के लिए जो कुछ किया है, बीसीसीआई उन्हें कितना भी धन्यवाद दे, कम होगा। हम विराट, चयनकर्ताओं से बात कर रहे हैं। धोनी के भविष्य पर समय आने पर बात करेंगे।’




और भी पढ़ें :