पाकिस्तान क्रिकेट की फिर हुई किरकिरी, तकनीक के अभाव में DRS नहीं होगा न्यूजीलैंड सीरीज में

पुनः संशोधित शनिवार, 11 सितम्बर 2021 (21:14 IST)
कराची: की क्रिकेट टीम 18 साल के लंबे अंतराल के बाद सीमित ओवरों की द्विपक्षीय श्रृंखला के लिए के दौरे पर आयी है। ये मुकाबले रावलपिंडी और लाहौर में खेले जाएंगे।

खिलाड़ियों को इस्लामाबाद हवाई अड्डे पर उतरने के बाद भारी सुरक्षा के बीच उनके होटल पहुंचाया गया।पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों और अधिकारियों के लिए उनके होटल में बायो बबल (जैव सुरक्षित माहौल) की व्यवस्था की है।

न्यूजीलैंड ने इससे पहले 2003 में सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए पाकिस्तान का दौरा किया था। टीम इसके बाद सुरक्षा कारणों से पाकिस्तान नहीं आयी है।

टॉम लैथम के नेतृत्व में न्यूजीलैंड की टीम में अपने नियमित कप्तान, केन विलियमसन और कुछ अन्य प्रमुख खिलाड़ियों के बिना यहां पहुंची है। इसमें से कुछ खिलाड़ी आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) में भाग ले रहे है तो कुछ विश्राम पर है।

नियमित कोच गैरी स्टीड भी मेहमान टीम के साथ नहीं आए हैं जो रावलपिंडी में तीन वनडे और लाहौर में पांच टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगी।

पीसीबी (पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड) और न्यूजीलैंड क्रिकेट ने ‘फैसला समीक्षा प्रणाली (डीआरएस)’ की अनुपलब्धता के कारण अगले सप्ताह की एकदिवसीय श्रृंखला को आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) क्रिकेट विश्व कप सुपर लीग के तहत नहीं खेलने का फैसला किया। ऐसे में यह द्विपक्षीय श्रृंखला होगी।

न्यूजीलैंड की टीम 2022-23 सत्र में दो टेस्ट और तीन एकदिवसीय मैच खेलने के लिए फिर से पाकिस्तान के दौरे पर आयेगी। दोनों बोर्ड इस बात पर सहमत हुए हैं कि ये 50 ओवर के मैच आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप 2023 की क्वालीफाइंग का हिस्सा होंगे।

न्यूजीलैंड कुछ प्रमुख खिलाड़ी कल टीम से जुड़ेंगे। ये खिलाड़ी हाल ही में बांग्लादेश में खेली गयी टी20 श्रृंखला का हिस्सा नहीं थे। इसमें डेरिल मिशेल, टॉड एस्टल, ईश सोढ़ी, मार्क चैपमैन और मार्टिन गुप्टिल टी20 टीम से जुड़ेंगे।

पाकिस्तान और न्यूजीलैंड की श्रृंखला में नहीं होगा DRS

पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच सीमित ओवरों की आगामी श्रृंखला के दौरान निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) का उपयोग नहीं किया जाएगा।यही कारण है कि यह सीरीज वनडे सीरीज़ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) विश्व कप सुपर लीग का हिस्सा नहीं होगी।

सुपर लीग की प्लेइंग कंडीशन्स में डीआरएस अहम है, लेकिन पाकिस्तान

में तकनीक की कमी की वजह से इस सीरीज़ में डीआरएस मौजूद नहीं होगा। 2023 वनडे विश्व कप

में जगह बनाने के लिए सुपर लीग सर्वोच्च माध्यम है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को कोई ऐसा प्रोवाइडर नहीं मिला जो आईसीसी द्वारा मान्यता प्राप्त हो।

सूत्रों ने कहा, ‘‘सदस्य बोर्ड में डीआरएस प्रौद्योगिकी प्रदाता हो सकते हैं जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से मंजूरी प्राप्त हों।’’उन्होंने कहा कि डीआरएस प्रौद्योगिकी लाहौर में अक्टूबर में इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले दो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिये उपलब्ध रहेगी।

पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच श्रृंखला में तीन वनडे और पांच टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जाएंगे। वनडे रावलपिंडी में 17, 19 और 21 सितंबर को खेले जाएंगे जबकि इसके बाद टी20 मैच लाहौर में होंगे।



और भी पढ़ें :