मोटेरा स्टेडियम का नाम हुआ नरेंद्र मोदी स्टेडियम, राष्ट्रपति ने किया उद्घाटन

Last Updated: बुधवार, 24 फ़रवरी 2021 (14:05 IST)
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बुधवार को दुनिया के सबसे बड़े सरदार क्रिकेट स्टेडियम और सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एनक्लेव का औपचारिक उद्घाटन कर चुके हैं। राष्ट्रपति ने गृहमंत्री अमित शाह और खेलमंत्री किरेन रीजीजू समेत कई विशिष्ट अतिथियों की मौजूदगी में स्टेडियम का उद्घाटन किया। यहां और के बीच बुधवार से दिन रात का तीसरा और चार मार्च से चौथा टेस्ट खेला जाना है।
भूमिपूजन के बाद अमित शाह ने भाषण में यह घोषणा की कि मोटेरा स्टेडियम का नाम अब गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर बदला जा रहा है। इसका अर्थ है मोटेरा अब के नाम से जाना जाएगा।
अमित शाह ने आगे कहा कि उनके मन में बहुत टीस उठती थी जब गुजराती व्यक्ति का खेल कूद से दूर दूर तक नाता नहीं था। लेकिन अब स्थिती वैसी नहीं है गुजराती नागरिक अब सना में भी देखा जा सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि गुजरात में जो कुछ होगा सब बढ़ा ही होगा।

अमित शाह ने स्टेडियम की विशेषताएं बताई ।का सरदार पटेल मोटेरा स्टेडियम 63 एकड़ में फैला है, जिसमें 1.10 लाख लोगों की बैठने की क्षमता है। वर्तमान में मेलबोर्न दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है। इसमें एक साथ में 90,000 लोग बैठ सकते हैं। यह ओलंपिक आकार के 32 फुटबॉल स्टेडियमों के बराबर का है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में 3 कॉर्पोरेट बॉक्स, ओलंपिक स्तर का स्विमिंग पूल, इंडोर अकादमी, एथलीटों के लिए चार ड्रेसिंग रूम,फूड कोर्ट और जीसीए क्लब हाउस भी शामिल किया गया हैं।स्टेडियम में छह लाल और पांच काली मिट्टी की कुल 11 पिचें तैयार की गई हैं। मुख्य और अभ्यास पिचों के लिए दोनों मिट्टी का उपयोग करने वाला यह पहला स्टेडियम है।अमित शाह ने यह भी बताया कि एक दिन में 2 टी-20 मैच भी इस स्टेडियम में खेले जा सकते हैं।

बारिश की स्थिति में, पिच को केवल 30 मिनट में सुखाया जा सकता है। अत्याधुनिक एलईडी फ्लडलाइट से वातावरण गर्म नहीं होगा और दर्शकों के साथ-साथ क्रिकेटरों को भी आराम मिलेगा। इस स्टेडियम की एक अभिनव विशेषता यह है कि नौ मीटर की ऊँचाई पर 360 डिग्री पोडियम कोनकोर्स दर्शकों की आवाजाही को सरल बनाती है, साथ ही यह किसी भी स्टैंड से दर्शकों को एक समान दृश्य प्रदान करता है।

अमित शाह ने यह भी बताया कि 3000 नौजवान खिलाड़ी और 250 कोच नरेंद्र मोदी स्टेडियम में रहकर अपने खेल पर फोकस कर सकते हैं। यही नहीं 600 स्कूलों को इस स्टेडियम से जोड़ा जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि अहमदाबाद आने वाले समय में स्पोर्ट्स सिटी के नाम से जाना जाएगा।

इस स्टेडियम में सुनील गावस्कर का 1987 में 10000 टेस्ट रन पूरे करना और कपिल देव का 432 टेस्ट विकेट लेकर 1994 में सर रिचर्ड हैडली का रिकॉर्ड तोड़ते हुए सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाला गेंदबाज बनना शामिल है।

रीजीजू ने उद्घाटन के मौके पर कहा ,‘‘ हम बचपन में भारत में सबसे बड़े स्टेडियम का सपना देखते थे और अब बतौर खेलमंत्री इसे पूरा होते देखकर मेरी खुशी का ठिकाना नहीं है। ’’पिछले कुछ दिनों से यहां अभ्यास कर रहे भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने भी इस मैदान की जमकर प्रशंसा की है।



और भी पढ़ें :