मोहम्मद शमी ने ईडन गार्डन पर गुलाबी गेंद से लिए थे 7 विकेट

पुनः संशोधित गुरुवार, 21 नवंबर 2019 (00:56 IST)
कोलकाता। भारत और बांग्लादेश के बीच 22 नवंबर से पहला डे-नाइट मैच शुरू होने जा रहा है। इससे पहले वर्ष 2016 में मैदान पर मोहन बागान और भवानीपुर के बीच 4 दिवसीय घरेलू मैच खेला गया था, जो इस मैदान पर पिंक बॉल से खेला गया पहला मैच था। (कैब) द्वारा आयोजित इस मैच में मोहम्मद शमी ने बागान के लिए खेलते हुए लिए थे।
क्रिकेट विशेषज्ञों की मानें तो ईडन गार्डन से मैच आयोजित करने के लिए पूरी तरह उपयुक्त मैदान है, जहां दोनों ही टीमें पहली बार इस प्रारूप में खेलने उतरेंगी। कैब क्यूरेटर सुजान मुखर्जी ने कहा कि वेगुलाबी गेंद से इस पिच पर खेलने को लेकर काफी उत्साहित हैं और उनका मानना है कि दोनों ही टीमों को पिच पर फायदा पहुंचेगा।

मुखर्जी ने कहा कि आमतौर पर यहां क्रिकेट लाल गेंद से और सीमित ओवर में सफेद गेंद से खेला जाता है लेकिन गुलाबी गेंद के लिए भी ईडन गार्डन की पिच तैयार है। बीसीसीआई के मुख्य क्यूरेटर आशीष भौमिक भी पहले गुलाबी गेंद के मुकाबले के लिए शहर में मौजूद हैं और उन्होंने तैयारियों तथा पिच का भी जायजा लिया।
Pink ball

गुलाबी गेंद पर अधिक रोगन होने के कारण इसके स्विंग अधिक करने की उम्मीद है, ऐसे में तेज़ गेंदबाजों को इससे फायदा मिल सकता है। दोनों टीमों के बीच पहले मैच में मोहम्मद शमी, उमेश यादव और ईशांत शर्मा काफी सफल रहे थे। ऐसे में दूसरे मैच में भी इनके प्रदर्शन पर निगाहें रहेंगी।

भारत ने होलकर स्टेडियम में हुए पहले मैच में बांग्लादेश को 3 दिन के अंदर पारी और 130 रन से पराजित कर दिया था। विराट की अगुवाई में मेज़बान टीम 1-0 की बढ़त के साथ उतरेगी और क्लीन स्वीप करना चाहेगी।

भारत और बांग्लादेश के बीच 2 टेस्टों की सीरीज़ के दूसरे मैच को डे-नाइट प्रारूप में कराने के लिए बांग्लादेशक्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) की मंजूरी के बाद पहली बार खेला जाएगा। आयोजकों को भरोसा है कि मैच के पहले दिन स्टेडियम पूरी तरह दर्शकों से भरा रहेगा जहां करीब 68 हजार दर्शकों के मौजूद रहने की उम्मीद है।




और भी पढ़ें :