बारिश ने मुंबई को बना दिया वेलिंग्टन, दोनों टीमें शामिल करेंगी एक अतिरिक्त पेसर

पुनः संशोधित गुरुवार, 2 दिसंबर 2021 (12:16 IST)
मुंबई: का बेमौसम का मानसून और के बीच यहां होने वाले दूसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन के खेल में खलल डाल सकता है और के कारण की पिच तेज गेंदबाजों के अनुकूल होने की उम्मीद है।

अचानक से ऐसा लग रहा है कि पिच स्पिन गेंदबाजों की जगह तेज गेंदबाजों को ज्यादा मदद देगी। ऐसे में दोनों ही टीमें वापस से अपने टीम कॉम्बिनेशन पर विचार कर सकती है।

बुधवार को पूरे दिन बारिश के कारण दोनों टीमों को अपने ट्रेनिंग सत्र रद्द करने के लिए बाध्य होना पड़ा।
गुरुवार को भी बारिश की भविष्यवाणी की गई है और आउटफील्ड गीली रहेगी। भारतीय टीम ऐसे में बांद्रा कुर्ला परिसर मैदान जाएगी जहां इंडोर अभ्यास की सुविधा है जबकि वानखेड़े स्टेडियम में ऐसा नहीं है।

वानखेड़े स्टेडियम की पिच पर बिलकुल भी घास नजर नहीं आ रही है जिससे धीमे गेंदबाजों को मदद मिल सकती है। शुक्रवार से होने वाले टेस्ट में हालांकि वानखेड़े की पिच से तेज गेंदबाजों और स्पिनरों दोनों को मदद मिलने की उम्मीद है। लगातार बारिश के कारण पिच को ढककर रखा गया है जिसके कारण सतह के नीचे काफी नमी होगी।

अतिरिक्त नमी से निश्चित तौर पर तेज गेंदबाजों को कानपुर से अधिक मदद मिलेगी लेकिन इस तरह के विकेट से स्पिनरों को भी काफी टर्न मिलेगा।शुक्रवार को बारिश की भविष्यवाणी है लेकिन दोनों टीमें विशेषकर भारत प्रार्थना करेगा कि दूसरे से पांचवें दिन मौसम का खलल नहीं हो।

मयंक अग्रवाल को देना होगा कोहली के लिए रास्ता

सभी की नजरें इस मैच के लिए भारतीय टीम के संयोजन पर भी टिकी हैं। अंतिम एकादश में कप्तान विराट कोहली की वापसी से मयंक अग्रवाल का बाहर होना लगभग तय है क्योंकि मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और गेंदबाजी कोच पारस महाम्ब्रे सहित सहयोगी स्टाफ ने अजिंक्य रहाणे का समर्थन किया है जो खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं।

सिराज को शामिल करने के लिए कौन होगा बाहर

गर्दन में जकड़न के कारण विकेटकीपर रिद्धिमान साहा बाहर हो सकते हैं और उनकी जगह श्रीकर भरत को पदार्पण कर मौका मिल सकता है। वह शुभमन गिल के साथ पारी का आगाज कर सकते हैं।

तेज गेंदबाजी के अनुकूल हालात को देखते हुए मोहम्मद सिराज को इशांत शर्मा की जगह टीम में शामिल किया जा सकता है या फिर ये दोनों उमेश यादव के साथ तेज गेंदबाजी तिकड़ी बना सकते हैं और ऐसी स्थिति में अक्षर पटेल को बाहर बैठना होगा।

अक्षर पटेल ने कानपुर टेस्ट की पहली पारी में 5 विकेट चटकाए थे। वहीं अश्विन ने दोनों पारियों में 3-3 विकेट लिए ऐसे में किसी स्पिनर को बाहर करने का खतरा क्या कप्तान कोहली लेंगे यह देखने वाली बात होगी।

न्यूजीलैंड के साथ भी यही समस्या

बारिश के मौसम से न्यूजीलैंड खुश तो होगी क्योंकि यह ऐसा मौसम है जो उन्हें घर के माहौल जैसी स्थिति प्रदान करेगा। ऐसे में टीम 3 तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकती है। फिलहाल न्यूजीलैंड के दल में शामिल तीनों तेज गेंदबाज टॉप 10 टेस्ट रैंकिंग में शामिल है। टिम साउदी, काइल जैमिसन तो कानुपर टेस्ट में खुद को साबित कर चुके हैं।

चाहेंगे कि बाएं हाथ के तेज गेंदबाज नील वैंगनर

को भी टीम में शामिल किया जाए। लेकिन फिर वह किसे बाहर करेंगे, स्पिनर सोमरविल को जिन्होंने 110 गेंदो में 36 रन बनाकर ड्रॉ में अहम भूमिका निभाई। या फिर राचिन रविंद्र और एजाज पटेल में से किसी एक को जिन्होंने 8.2 ओवर में 10 रन की साझेदारी कर टीम के लिए ड्रॉ सुनिश्चित किया। कठिन सवाल दोनों ही कप्तानों के सामने हैं।



और भी पढ़ें :