पहले उंगली तो अब कोहनी, 3 महीने में दूसरी बार हुई जोफ्रा आर्चर की सर्जरी

Last Updated: गुरुवार, 27 मई 2021 (17:40 IST)
लंदन: इंग्लैंड के अनुभवी तेज गेंदबाज ने लंबे समय से चोटिल दाएं हाथ की कोहनी की सर्जरी कराने के बाद कहा है कि वह क्रिकेट में वापसी करने में जल्दबाजी नहीं करेंगे, क्योंकि वह आगामी टी-20 विश्व कप और एशेज खेलना चाहते हैं। 3 महीने के अंतराल में यह उनकी दूसरी सर्जरी हुई है।
इससे पहले उनके दाएं हाथ की बीच की उंगली से कांच का टुकड़ा 31 मार्च को निकाल दिया गया था। यह चोट उनको भारत दौरे पर आने से पहले लगी थी।
इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने बुधवार को आर्चर द्वारा कोहनी की सफल सर्जरी कराने की पुष्टि की है। आर्चर अब इसीबी और ससेक्स की मेडिकल टीमों की देखरेख में लगभग चार हफ्ते तक रिहैबिलिएटेशन में रहेंगे। 26 वर्षीय आर्चर साल की शुरुआत में भारत दौरे से ही अपनी फिटनेस को लेकर संघर्ष कर रहे हैं।
आर्चर ने डेली मेल के लिए अपने कॉलम में लिखा, “ टी-20 विश्व कप और एशेज खेलना मेरा लक्ष्य है। अगर मैं इससे पहले वापसी करता हूं और भारत के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में खेलता हूं तो अच्छा है। अगर ऐसा नहीं होता तो मैं समर सीजन में बाहर बैठने के लिए पूरी तरह तैयार हूं। मैंने यह फैसला लिया है कि मैं वापसी में जल्दबाजी नहीं करूंगा, क्योंकि मेरी सबसे पहली प्राथमिकता इस साल के अंत में इंग्लैंड के लिए टी-20 विश्व कप और एशेज खेलना है। ”

चोटिल होने के चलते न्यूजीलैंड के खिलाफ अगले महीने होने वाली दो मैचों की टेस्ट सीरीज से वह पहले ही बाहर हो गए हैं। इस साल की शुरुआत में भारत दौरे आर्चर की हाथ की चोट गंभीर हो गई थी। इसी दौरान वह कोहनी की चोट से भी जूझ रहे थे। इस कारण वह भारत दौरे और में भी नहीं खेल पाए थे। वहीं वह साल 2020 की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर भी नहीं जा पाए थे।

आर्चर ने इस साल इंग्लैंड में व्यस्त अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम के साथ-साथ आगामी दो सबसे बड़ी प्रतियोगिताओं अक्टूबर नवम्बर में टी-20 विश्व कप और साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज श्रृंखला खेलने की इच्छा जताई है।

आर्चर ने कहा, “ स्थिति को देखकर मुझे ऐसा लग रहा है कि मुझे कुछ हफ्ते टीम से बाहर रहना होगा, ताकि मेरे करियर में कुछ और साल जुड़ जाएं। मैं एक बार और हमेशा के लिए इस इस चोट से उबरना चाहता हूं, इसलिए मैं वापसी को लेकर बहुत जल्दबाजी न करने की सोच रहा हूं। चोट से नहीं उबरा तो मैं कोई क्रिकेट नहीं खेल पाऊंगा। पूरी तरह से फिट हुए बिना वापसी करना मेरे लिए ठीक नहीं होगा, इसलिए मैं अपना समय लूंगा और वही करूंगा जो मेरे और मेरे जीवन के लिए सबसे अच्छा है। ”
आर्चर ने सर्जरी को लेकर कहा, “ सर्जरी हमेशा अंतिम विकल्प था और हम ऐसा करने से पहले हरसंभव विकल्प को देख रहे थे। यह आखिरी विकल्प था। चार हफ्तों में हमें पता चलेगा कि स्थिति क्या है। मुझे भरोसा है कि सबकुछ अच्छा होगा, हालांकि जरूरत पड़ने पर एक और सर्जरी हो सकती है। 26 साल की उम्र में मैं अभी भी बहुत युवा हूं। मैं अभी केवल रिहैबिलिएटेशन करना चाहता हूं। मैं इंग्लैंड के लिए तीनों प्रारूपों में खेलने और बड़ी सीरीज जीतने के लिए प्रतिबद्ध हूं, लेकिन काफी समय हो गया है जब मैंने बगैर दर्द के गेंदबाजी की हो। ”
उल्लेखनीय है कि आर्चर पिछले हफ्ते केंट के खिलाफ काउंटी चैंपियनशिप में ससेक्स के लिए मैदान में लौटे थे, लेकिन उन्होंने सिर्फ 18 ओवर गेंदबाजी की थी। गेंदबाजी करते समय उनकी दाहिनी कोहनी में दर्द हो रहा था। परिणामस्वरूप वह मैच के आखिरी दो दिनों में गेंदबाजी करने में असमर्थ थे। आर्चर चार अगस्त को भारत के खिलाफ पहले टेस्ट में मैदान पर उतरेंगे या नहीं इस पर फैसला करने से पहले ईसीबी उनकी गेंदबाजी फिटनेस को देखेगा।(वार्ता)



और भी पढ़ें :