ऐसा क्या कहा कप्तान जो रूट ने, मांगनी पड़ी मोईन अली से माफी

Last Updated: बुधवार, 17 फ़रवरी 2021 (11:54 IST)
लंदन:के कप्तान ने मोईन अली से अपने उस बयान के लिये मांगी है जिसमें उन्होंने कहा था कि इस ने भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के बाद स्वदेश लौटने का विकल्प चुना है जबकि वास्तव में यह राष्ट्रीय टीम की रोटेशन नीति का हिस्सा है।
चेन्नई में दूसरे टेस्ट मैच में आठ विकेट लेने और दूसरी पारी में 18 गेंदों पर 43 रन बनाने वाले मोईन ने मूल योजना पर अमल किया और 10 दिन के विश्राम पर ब्रिटेन लौटने का फैसला किया। मोईन का एशेज 2019 के बाद यह पहला मैच था।

‘मिरर’ समाचार पत्र की रिपोर्ट के अनुसार रूट ने ‘स्वदेश लौटने का विकल्प चुनने‘ के अपने बयान के लिये टीम होटल में मोईन से माफी मांगी।ब्रिटेन के कुछ अन्य समाचार पत्रों ने भी इस तरह की रिपोर्ट प्रकाशित की है।

मोईन की तरह सभी प्रारूप में खेलने वाले जोस बटलर पहले टेस्ट मैच के बाद स्वदेश लौट गये थे और सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिये वापस भारत जाएंगे। बेन स्टोक्स और जोफ्रा आर्चर को हाल में श्रीलंका दौरे में विश्राम दिया गया था।

जॉनी बेयरस्टॉ को भारत के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैच के लिये टीम में नहीं रखने की पूर्व क्रिकेटरों ने कड़ी आलोचना की थी। श्रीलंका दौरे के बाद उन्हें भी विश्राम दिया गया था। बेयरस्टॉ आखिरी दो टेस्ट मैचों के लिये अब भारत में हैं।

कप्तान रूट ने क्या कहा था मोइन के बारे में
इंग्लैंड के कप्तान जो रुट ने मंगलवार को मैच के बाद कहा था, “मोईन अपने परिवार के साथ घर वापस जा रहे हैं। टीम में केवल वही हैं जो घर जा रहे हैं। यह उनका निर्णय है। निश्चित रूप से हम जब तक हो सके अधिक से अधिक खिलाड़ियों को उपलब्ध रखना चाहते हैं, लेकिन हम यह भी चाहते हैं कि खिलाड़ियों को कोई असवुिधा न हो और मोईन अपने परिवार के साथ घर पर रहना चाहते हैं और हम इसे अच्छे से समझते हैं। मोईन के लिए पिछले कुछ महीने बहुत मुश्किल रहे हैं। श्रीलंका पहुंचने पर कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण उन्हें काफी समय तक क्रिकेट से दूर रहना पड़ा। यहां तक कि वह भारत के साथ मौजूदा टेस्ट श्रृंखला के पहले टेस्ट से भी बाहर रहे।”

गौरतलब है कि मोईन अली ने टेस्ट की दोनों पारियों में 4 -4 विकेट लिए। विराट कोहली को पहली पारी में उन्होंने शून्य पर बोल्ड किया और दूसरी पारी में अर्धशतक के बाद उन्हें पगबाधा आउट किया। पूरे टेस्ट में मोइन अली इंग्लैंड के टॉप स्कोरर रहे। चौथे दिन खेली पारी में उन्होंने 18 गेंदो पर 5 छक्कों और 3 चौकों की मदद से 43 रन बनाए। उनका न होना अगले टेस्ट के लिए इंग्लैंड की मुश्किल बढ़ाएगा।(भाषा)



और भी पढ़ें :