रूट ने की जड़ें मजबूत, तीसरे दिन के पहले सत्र में विकेट को तरसे भारतीय गेंदबाज

Last Updated: रविवार, 15 अगस्त 2021 (18:38 IST)

इंग्लैंड के कप्तान ने एक बार फिर भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण का डटकर सामना किया जबकि जॉनी बेयरस्टो भी उनके साथ दूसरे छोर पर अच्छा साथ निभा रहे हैं जिससे मेजबान टीम ने शनिवार को यहां दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन लंच तक पहली पारी में तीन विकेट पर 216 रन बना लिये।
तीसरे दिन रूट ने शुरूआत से ही भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी जारी रखी और उन्हें दूसरे छोर पर बेयरस्टो के रूप में अच्छा जोड़ीदार मिला।

रूट अपने 22वें टेस्ट शतक की ओर बढ़ रहे हैं, उन्होंने 171 गेंद में नौ चौकों से 89 रन बना लिये हैं।

वहीं बेयरस्टो ने अपना 22वां अर्धशतक पूरा कर लिया है और वह छह चौकों से 51 रन बनाकर क्रीज पर डटे रहे। हालांकि ताजा खबर मिलने तक भोजनकाल के बाद वह मोहम्मद सिराज का शिकार बन गए और कोहली को कैच थमा बैठे। बेरेस्टो 57 के स्कोर पर आउट हो गए।

इन दोनों ने चौथे विकेट के लिये 121 रन जोड़े। विराट कोहली के गेंदबाजी आक्रमण को उस पिच पर पहले सत्र में एक भी सफलता नहीं मिली जो बल्लेबाजी के लिये आसान होती जा रही है।
जसप्रीत बुमराह (15 ओवर में 34 रन) को छोड़कर कोई भी तेज गेंदबाज इन दोनों बल्लेबाजों को परेशानी में नहीं डाल सका जिससे इस जोड़ी ने इच्छानुसार चौके लगाये।

रूट ने सत्र की शुरूआत मोहम्मद सिराज (17 ओवर में 49 रन देकर दो विकेट) पर स्क्वायर ड्राइव से चौका लगाकर की जिससे वह श्रृंखला में लगातार तीसरी बार 50 से ज्यादा रन के स्कोर पर पहुंचे।

ये दोनों बल्लेबाज शमी (16 ओवर में 60 रन देकर एक विकेट) और सिराज की गेंदों पर शुरूआती आधे घंटे में छह चौके लग चुके थे।
शुरूआती आधे घंटे में केवल दो ओवर ही मेडन डाले जा सके जिसमें 54 रन बने जिससे पहले दो दिन तक दबदबा बनाने वाली भारतीय टीम अचानक से बैकफुट पर पहुंचने लगी।

रविंद्र जडेजा ने कुछ ओवर फेंके लेकिन इससे भी कुछ मदद नहीं मिली। तीसरे दिन के पहले सत्र में इंग्लैंड ने 97 रन बनाए और एक भी विकेट नहीं गंवाया।

भारत ने पहली पारी में 365 रन बनाये थे।इससे पहले शुक्रवार को इंग्लैंड ने जब खेला था तो मोहम्मद सिराज ने एक ही ओवर में इंग्लैंड को चायकाल के बाद 2 झटके दिए थे। इसके बाद रोरी बर्न्स और जो रूट ने सिराज और इशांत पर जवाबी हमला बोला था और स्कोर को 100 के पार पहुंचाया था। मोहम्मद शमी ने इसके बाद खराब फॉर्म से जूझ रहे बर्न्स को अर्धशतक से वंचित कर दिया था।



और भी पढ़ें :