कामिनी और पूनम के शतक, भारत की शानदार शुरुआत

Last Updated: रविवार, 16 नवंबर 2014 (20:01 IST)
हमें फॉलो करें
मैसूर। सलामी बल्लेबाज तिरुष कामिनी और तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरी पूनम राउत के नाबाद शतकों की मदद से भारतीय महिला टीम ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एकमात्र टेस्ट क्रिकेट  मैच में रविवार को यहां अच्छी शुरुआत करते हुए पहले दिन का खेल समाप्त होने तक 1 विकेट पर  211 रन बनाए।
 
कामिनी (नाबाद 100) और पूनम (नाबाद 100) ने ऐसे समय में रिकॉर्ड साझेदारी निभाने का  जिम्मा उठाया जबकि टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे भारत ने स्मृति मंदाना (8) का  विकेट जल्दी गंवा दिया था। कामिनी और राउत ने दूसरे विकेट के लिए अब तक 203 रन जोड़े हैं,  जो भारत की तरफ से नया रिकॉर्ड है।
 
यह पहला अवसर है जबकि 2 भारतीय महिलाओं ने एक टेस्ट मैच में शतक जमाए। इन दोनों को  दूसरे विकेट के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी करने के लिए अब केवल 32 रन की दरकार है। रिकॉर्ड  इंग्लैंड की बेटी स्नोबाल और मोली हाइड के नाम पर है जिन्होंने 1935 में न्यूजीलैंड के खिलाफ  235 रन जोड़े थे।
 
भारत की तरफ से इससे पहले दूसरे विकेट का रिकॉर्ड संध्या अग्रवाल और सुधा शाह के नाम पर  था। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 1985 में लखनऊ में 116 रन की भागीदारी की थी। अपना  दूसरा टेस्ट मैच खेल रही बाएं हाथ की बल्लेबाज कामिनी ने पहले शतक पूरा किया। उन्होंने अब  तक 305 गेंद खेलकर 13 चौके लगाए। 
 
दिन के आखिरी क्षणों में पूनम भी अपना पहला शतक पूरा करने में सफल रही। उनकी 297 गेंदों  की पारी में भी 13 चौके शामिल हैं। इन दोनों ने संभलकर बल्लेबाजी की और दक्षिण अफ्रीकी  गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया।
 
दक्षिण अफ्रीका की तरफ से चोले टायरन ही विकेट हासिल कर पाई। मध्यम गति की इस 20  वर्षीय गेंदबाज ने अब तक 23 रन देकर 1 विकेट लिया। (भाषा)



और भी पढ़ें :