पहले वन-डे में भारत की शर्मनाक हार, ऑस्ट्रेलिया ने 66 रनों से हराया

Last Updated: शुक्रवार, 27 नवंबर 2020 (18:55 IST)
सिडनी। कप्तान आरोन फिंच (114) और पूर्व कप्तान स्टीवनन स्मिथ (105) के शतकीय प्रहारों से ऑस्ट्रेलिया ने को पहले वन-डे में शुक्रवार को 66 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। ऑस्ट्रेलिया को इस जीत से में 10 अंक मिले।
ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों पर दमदार प्रहार करते हुए 50 ओवर में 6 विकेट पर 374 रनों का विशाल स्कोर बनाया। बड़े लक्ष्य के दबाव में भारतीय बल्लेबाज साफ़ नजर आए और भारतीय टीम 50 ओवर में 8 विकेट पर 308 रन ही बना पाई। हालांकि सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 74 और हार्दिक पांड्या ने 90 रन बनाकर भारत की हार को कुछ सम्मान दिया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से लेग स्पिनर एडम जम्पा ने 54 रन पर चार विकेट लिए। सीरीज का दूसरा मैच रविवार को इसी मैदान पर खेला जाएगा।
भारत ने हालांकि पहले दो ओवर में 32 रन जोड़कर शानदार शुरुआत की लेकिन इसके बाद भारत ने लगातार विकेट गंवाए। मयंक अग्रवाल को जोश हेजलवुड ने आउट किया। भारत का पहला विकेट 53 के स्कोर पर गिरा। मयंक ने 18 गेंदों पर 22 रन में 2 चौके और एक छक्का लगाया।

कप्तान विराट कोहली 21 गेंदों में 2 चौकों और एक छक्के की मदद से 21 रन बनाकर टीम के 78 के स्कोर पर आउट हुए। विराट को हेजलवुड ने अपने कप्तान फिंच के हाथों कैच कराया। श्रेयस अय्यर दो रन बनाकर हेजलवुड का तीसरा शिकार बने। भारत का तीसरा विकेट 80 के स्कोर पर गिरा।

लोकेश राहुल 15 गेंदों में 12 रन बनाकर टीम के 101 रन बनाकर आउट हुए। शिखर और पांड्या ने पांचवें विकेट के लिए 128 रन की शानदार साझेदारी की और इस साझेदारी ने ही भारत की हार को सम्मानजनक बनाया। जम्पा ने शिखर को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। भारत का पांचवां विकेट 229 के स्कोर पर गिरा। शिखर ने 86 गेंदों पर 76 रन में 10 चौके लगाए।

पांड्या ने अपनी आईपीएल की अपनी फॉर्म को वन-डे में जारी रखते हुए एकदिवसीय क्रिकेट में अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया लेकिन वह अपने पहले वन-डे शतक से 10 रन दूर रह गए। पांड्या ने कुछ बेहतरीन चौके और छक्के लगाए। पांड्या 76 गेंदों पर सात चौकों और चार छक्कों की मदद से 90 रन बनाकर छठे विकेट के रूप में 247 के स्कोर पर आउट हुए। पांड्या को जम्पा ने मिशेल स्टार्क के हाथों कैच कराया।

पांड्या के आउट होने के साथ भारत की लक्ष्य के करीब पहुंचने की अंतिम उम्मीद टूट गई। रवींद्र जडेजा ने 25, नवदीप सैनी ने नाबाद 29 और मोहम्मद शमी ने 13 बनाकर भारत को 300 के पार पहुंचाया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से जम्पा ने 54 रन पर चार विकेट, हेजलवुड ने 55 रन पर तीन विकेट और मिशेल स्टार्क ने 65 रन पर एक विकेट लिया।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। फिंच और स्मिथ के शतकों के अलावा सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (69) ने अर्द्धशतक बनाया। ऑस्ट्रेलिया 374 रनों का विशाल स्कोर अंत में भारत पर भारी पड़ा। फिंच ने 124 गेंदों में 9 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 114 रन, स्मिथ ने 66 गेंदों में 11 चौकों और चार छक्कों की मदद से 105 रन औऱ वॉर्नर ने 76 गेंदों में छह चौकों के सहारे 69 रन बनाए।

सलामी बल्लेबाजों वॉर्नर और फिंच के बीच पहले विकेट के लिए 156 रनों की बड़ी साझेदारी हुई। इन दोनों बल्लेबाजों के आगे भारतीय गेंदबाज बेबस नजर आए। हालांकि इस साझेदारी को मोहम्मद शमी ने वार्नर को विकेट के पीछे लोकेश राहुल के हाथों कैच कराकर तोड़ा। पहला विकेट गिरने के बाद स्मिथ ने फिंच के साथ मोर्चा संभाला और मजबूत शुरुआत को धार दी। दोनों बल्लेबाजों के बीच दूसरे विकेट के लिए 108 रन की साझेदारी हुई। यह साझेदारी और बड़ी होती उससे पहले जसप्रीत बुमराह ने फिंच को आउट कर उनकी पारी को समाप्त किया।
फिंच के आउट होने के बाद मार्कस स्टॉयनिस मैदान पर उतरे लेकिन पहली ही गेंद पर युजवेंद्र चहल ने खाता खोले बिना उन्हें पैवेलियन भेज दिया। स्टॉयनिस का कैच राहुल ने लपका। इसके बाद स्मिथ ने ग्लेन मैक्सवेल के साथ धुआंधार पारी खेली। मैक्सवेल ने मात्र 19 गेंदों में पांच चौकों औऱ तीन छक्कों की मदद से ताबड़तोड़ 45 रन बनाए। मैक्सवेल का विकेट शमी ने लिया।

मैक्सवेल के आउट होने के बावजूद स्मिथ ने जिम्मेदारी निभाते हुए अपनी शानदार पारी जारी रखी और वनडे करियर का नौवां शतक जड़ा। हालांकि शमी ने आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर स्मिथ को बोल्ड कर उनकी पारी का अंत किया। मार्नस लाबुशेन ने दो रन बनाए जबकि विकेटकीपर एलेक्स कैरी 13 गेंदों में दो चौकों की मदद से नाबाद 17 रन और पैट कमिंस ने नाबाद एक रन बनाया।

भारत की तरफ से स्पिनर युजवेंद्र चहल सबसे महंगे साबित हुए और उन्होंने 10 ओवर में 89 रन लुटाकर एक विकेट लिया। इसके अलावा जसप्रीत बुमराह ने 10 ओवर में 73 रन देकर एक विकेट, नवदीप सैनी ने 10 ओवर में 83 रन देकर एक विकेट और मोहम्मद शमी ने 10 ओवर में 59 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि रवींद्र जडेजा 10 ओवर में 63 रन देकर खाली हाथ रहे। (वार्ता)



और भी पढ़ें :