ICC टेस्ट रैंकिंग में टीम इंडिया पांचवीं बार लगातार बनी अव्वल, न्यूजीलैंड को 1 अंक से पछाड़ा

Last Updated: गुरुवार, 13 मई 2021 (16:09 IST)
दुबई:चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) की फाइनलिस्ट भारतीय टीम आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर बरकरार है। वहीं डब्ल्यूटीसी की अन्य फाइनलिस्ट टीम दूसरे स्थान पर बनी हुई है।
दिलचस्प बात यह है कि के साउथहैप्टन में और न्यूजीलैंड यानि की आईसीसी की शीर्ष दो टीमों के बीच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का मैच 18 जून से खेला जाएगा।यह एक तरह से टेस्ट का विश्वकप होगा जिसमें विश्व की सर्वश्रेष्ठ टीम का निर्णय हो जाएगा। हालांकि फिलहाल भारत नंबर 1 टीम बनकर इस फाइनल में उतरेगा।
आईसीसी की ओर से गुरुवार को जारी वार्षिक अपडेट के मुताबिक भारत रैंकिंग में 121 अंकों के साथ पहले और 120 अंकों के साथ न्यूजीलैंड दूसरे स्थान पर है। गत एक वर्ष में खेली गईं टेस्ट सीरीज में जीत ने भारत और न्यूजीलैंड को शीर्ष दो में बनाए रखा है। भारत ने जहां गत श्रृंखलाओं में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को क्रमश: 2-1 और 3-1 से हराया था तो वहीं न्यूजीलैंड ने वेस्ट इंडीज और पाकिस्तान के खिलाफ 2-0 से जीत दर्ज की थी।

ताजा अपडेट में मई 2020 से खेले गए सभी मैचों के लिए 100 प्रतिशत और पिछले दो वर्षों के मुकाबलों के लिए 50 प्रतिशत के हिसाब से रेटिंग दी गई है। इसके चलते इंग्लैंड 109 अंकों के साथ ऑस्ट्रेलिया से आगे तीसरे स्थान पर आ गया है, जबकि ऑस्ट्रेलिया एक पायदान नीचे आकर चौथे स्थान पर आ गया है। उसके 108 अंक है।
उल्लेखनीय है कि 2017-18 सत्र में ऑस्ट्रेलिया की इंग्लैंड के खिलाफ 4-0 से जीत को रैंकिंग में नहीं जोड़ा गया है।
उधर पाकिस्तान को रैंकिंग में तीन अंकों का फायदा हुआ है, लेकिन वह पांचवें स्थान पर ही बरकरार है, जबकि हाल ही में बंगलादेश को 2-0 से हारने और श्रीलंका के खिलाफ 0-0 से ड्रा खेलने वाली वेस्ट इंडीज की टीम 84 अंकों के साथ आठवें से छठे स्थान पर आ गयी है। वर्ष 2013 से यह उसका अब तक का सर्वश्रेष्ठ स्थान है।

वहीं दक्षिण अफ्रीका अपने अब तक सबसे निचले सातवें स्थान पर आ गया है। श्रीलंका भी एक पायदान नीचे खिसक कर आठवें स्थान पर आ गया है। बंगलादेश पांच अंक गंवाने के बावजूद नौंवे स्थान पर बरकरार है, जबकि जिम्बाब्वे आठ अंकों के फायदे के साथ भी दसवें स्थान पर बना हुआ है।

आईसीसी ने साल 2017 से जब भी टेस्ट रैंकिंग का वार्षिक अपडेट किया है भारतीय टीम नंबर 1 रैंक पर रही है। साल 2016 में ऑस्ट्रेलिया नंबर 1 रैंक टीम थी। वहीं साल 2015, 2014 और 2013 में इस दौरान दक्षिण अफ्रीका नंबर 1 टेस्ट टीम थी। साल 2012 और 2011 में भारतीय टीम टेस्ट में नंबर 1 रही। इस तरह से देखा जाए तो सफेद लिबास में टीम इंडिया का दबदबा पिछले 10 सालों में कायम रहा है।
(वार्ता)



और भी पढ़ें :