WTC फाइनल में होंगे LBW रिव्यू के नए नियम, ड्रॉ या टाई पर यह होगा फैसला

Virat and Ken Williamson
Last Updated: शुक्रवार, 28 मई 2021 (16:25 IST)
दुबई:के साउथम्प्टन में 18 से 22 जून तक भारत और के बीच होने वाले आईसीसी (डब्ल्यूटीसी) फाइनल के ड्रॉ या टाई होने की स्थिति में भारत और न्यूजीलैंड दोनों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया जाएगा। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि की है।
आईसीसी ने इसके अलावा डब्ल्यूटीसी फाइनल में जरूरत पड़ने पर छठे दिन भी मैच होने की जानकारी दी है जिसे रिजर्व डे के रूप में रखा गया है। यानी अगर किसी कारणवश पांच दिन में मैच खत्म नहीं हो पाता है तो छठे दिन भी मैच खेला जाएगा। अगर बारिश या किसी अन्य वजह से मैच में बाधा उत्पन्न होती है तो 23 जून को भी मैच का आयोजन होगा, इसलिए आईसीसी ने 23 जून को फाइनल मैच के रिजर्व डे के तौर पर रखा है।

रिजर्व डे में मैच तभी खेला जाएगा जब नियमित पांच दिनों में भी बर्बाद हुए समय की भरपाई नहीं हो सकेगी, हालांकि अगर पूरे पांच दिन के खेल के बाद सकारात्मक परिणाम प्राप्त नहीं होता है तो कोई अतिरिक्त दिन का खेल नहीं होगा और ऐसी स्थिति में मैच को ड्रॉ घोषित कर दिया जाएगा।
जानकारी के मुताबिक अगर कोई टीम समय बर्बाद करती है तो मैच रेफरी उसे गंवाए गए समय पर नियमित अपडेट देता रहेगा। वहीं डब्ल्यूटीसी फाइनल के आखिरी और पांचवें दिन के अंतिम घंटे की शुरुआत में मैच रेफरी अंतिम फैसला लेगा कि क्या रिजर्व डे का इस्तेमाल किया जाए या नहीं।

डब्ल्यूटीसी फाइनल में आईसीसी की प्लेयिंग कंडीशन्स के मुताबिक डीआरएस अपील के मामले में क्षेत्ररक्षण टीम के कप्तान को अंपायर से परामर्श करने की स्वतंत्रता होगी, अगर बल्लेबाज द्वारा असल में गेंद खेलने का प्रयास किया गया हो।
उल्लेखनीय है कि डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए हार्दिक पांड्या और ओपनर पृथ्वी शॉ भारतीय टीम में शामिल नहीं, जबकि रवींद्र जडेजा और हनुमा विहारी ने चोट के बाद टीम में वापसी की है। भारतीय टीम फिलहाल मुंबई में क्वारंटीन में है। वह दो जून को इंग्लैंड रवाना होगी।

इन कारकों पर होंगे नए नियम लागू

शॉर्ट रन - अगर किसी रन को मैदानी अंपायर न शॉर्ट रन घोषित किया है तो तीसरा अंपायर उसका रिव्यू देखेगा और अपना फैसला मैदानी अंपायर तक पहुंचाएगा।

प्लेयर रिव्यू- फील्डिंग कर रहा कप्तान या फिर बल्लेबाजी कर रहा बल्लेबाज एलबीडब्ल्यू के निर्णय पर रिव्यू लेने से पहले अंपयार से पूछ सकता है कि बल्लेबाज द्वारा शॉट खेलने का प्रयास किया गया था या नहीं।

बॉल ट्रेकिंग-
पगबाधा के नतीजों के लिए गेंदबाजों को थोड़ी सी राहत मिलेगी। अंतिम उंचाई गिल्लियां जहां खत्म होती है वह मानी जाएगी। इससे पहले गिल्लियां जहां से शुरु होती थी वह बॉल ट्रेकिंग में अंतिम उंचाई मानी जाती थी।(वार्ता)



और भी पढ़ें :